सूर्य देवता को जल चढ़ाने से पहले जरूर करें ये काम, बदल सकती है आपकी किस्मत

लाइव सिटीज डेस्क: यदि आप जीवन में सफलता के साथ ही यश और वैभव पाना चाहते हैं तो बिना सूर्य देव की कृपा के ये संभव नहीं है. आइए जानते हैं दो ऐसे ही सूर्य मंत्रों के बारे में जिन्हें रोज बोलकर सूर्य को अर्घ्य देने से सूर्य देव की कृपा हो जाती है और अपार लोकप्रियता व वैभव मिलने लगता है. शास्त्रों में पंचदेव बताए गए हैं, जिनकी पूजा हर काम की शुरुआत में की जाती है. ये पंचदेव हैं, श्रीगणेश, शिवजी, विष्णुजी, देवी दुर्गा और सूर्य देव. सूर्य देव एक मात्रा साक्षात् दिखाई देने वाले देवता हैं. रोज सुबह इनकी पूजा करने से घर-परिवार और समाज में मान-सम्मान की प्राप्ति होती है. सूर्य देव का प्रसन्न करने का सबसे अच्छा उपाय है सुबह सूर्योद्य के समय अर्घ्य अर्पित करना. यहां जानिए गीता प्रेस गोरखपुर द्वारा प्रकाशित संक्षिप्त भविष्य पुराण अंक के ब्राह्मपर्व के अनुसार सूर्य पूजा से जुड़ी खास बातें…

जानें इससे जुड़ी कुछ खास बातें:

1.ब्राह्मपर्व के सौरधर्म में सदाचरण अध्याय के अनुसार जो लोग सूर्य देव को जल चढ़ाते हैं, उन्हें सूर्योदय से पहले बिस्तर छोड़ देना चाहिए.

2.घर से बाहर कहीं जाते समय जब भी सूर्य देव का मंदिर दिखाई दे भगवान सूर्य को प्रणाम जरूर करें.

सूर्य पूजा से मिलते हैं ये फल

– जिन लोगों की कुंडली में सूर्य शुभ स्थिति में नहीं है, उन्हें सूर्य को रोज चढ़ाना चाहिए। इससे सूर्य के दोष दूर हो सकते हैं.

– सूर्य देव की कृपा से घर-परिवार और समाज में मान-सम्मान की प्राप्ति होती है.

– सुबह जल्दी उठने और सूर्य को जल चढ़ाने से त्वचा की चमक बढ़ती है.

ये बातें भी ध्यान रखें

– सूर्य को जल चढ़ाने के लिए तांबे के लोटे का उपयोग करना चाहिए.

– सूर्य के लिए रविवार को गुड़ का दान करना चाहिए.

– जल चढ़ाते समय सूर्य मंत्र ऊँ सूर्याय नम:, ऊँ आदित्याय नम:, ऊँ भास्कराय नम: आदि मंत्रों का जाप करते रहना चाहिए.

देखें वीडियो:

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*