ज्योतिष विज्ञान के अनुसार मांगलिक दोष उपचार

(लाइव सिटीज डेस्क):  मांगलिक दोष उपचार-  मांगलिक दोष के कारण किसी लड़की की शादी न हो पाने या शादी में व्यवधान की चर्चा घरों में अक्सर सुनने को मिल जाती हैं. मंगली लड़की की शादी मंगली लड़के से ही हो सकती है. लेकिन कई बार होता यूं है कि लड़की मांगलिक है और आप उस लड़की से ही शादी करना चाहते हैं.

आपने ठान लिया कि अमुक लड़की से ही शादी करनी है.  हो सकता है कि आप किसी ऐसी लड़की को चाहते हों जो मांगलिक हो, लेकिन आपके घरवाले उसके मांगलिक होने की वजह से आपकी उससे शादी नहीं होने देना चाहते.  ऐसे में आप क्या करेंगे? क्या शादी तोड़ देंगे? नहीं ऐसा करने की कोई जरूरत नहीं है. इसका निराकरण है. अगर वर—वधू की कुण्डली में इस प्रकार की ग्रह स्थिति नहीं है और मंगली दोष के कारण उससे शादी नहीं हो पा रही है,  जिसे आप अपना जीवनसाथी बनाने की इच्छा रखते हैं, तो मांगलिक दोष के प्रभाव को कम करने के लिए कुछ उपचार कर सकते हैं.

  • ज्योतिषशास्त्र में उपचार हेतु बताया गया है कि यदि वर मंगली (mangli)है और कन्या मंगली नहीं तो विवाह के समय वर जब वधू के साथ फेरे ले रहा हो तब पहले तुलसी के साथ फेरे ले लें. इससे मंगल दोष तुलसी पर चला जाता है और वैवाहिक जीवन में मंगल बाधक नहीं बनता है.
  • इसी प्रकार अगर कन्या मंगली है और वर मंगली नहीं है तो फेरे से पूर्व भगवान विष्णु के साथ अथवा केले के पेड़ के साथ कन्या के फेरे लगवा देने चाहिए. जिनकी कुण्डली में मांगलिक दोष है, अगर वे 28 वर्ष के पश्चात विवाह करते हैं तब मंगल वैवाहिक जीवन में अपना दुष्प्रभाव नहीं डालता है.


क्या 28 वें वर्ष के बाद मांगलिक दोष नहीं रहता ?

यह दोष पूर्ण अवधारणा बहुत प्रचलित है. मंगल 28 वें वर्ष में अपना शुभाशुभ फल प्रदान करता है यह सत्य है, किन्तु अपनी दशा; अन्तर्दशा, प्रत्यंतर दशा या गोचर में कभी भी अपना अशुभ फल प्रगट कर सकता है. अतः 28 वें वर्ष के बाद मांगलिक दोष की निवृत्ति नहीं होती.

क्या शनि या राहु से युक्त मंगल होने पर मांगलिक दोष नहीं रहता ?

कुछ मुहूर्त ग्रंथों में ऐसे वाक्य पढ़ने को मिलते हैं कि शनि या राहु से युक्त मंगल होने पर मांगलिक दोष नहीं रहता किन्तु ये वाक्य फलित ज्योतिष के शास्त्रीय नियमों के विरूद्ध हैं. यह सर्वमान्य फलित ज्योतिष सिद्धांत है कि पाप ग्रह कि युति किसी ग्रह के पाप फल में वृद्धि करती है, उसका दोष दूर नहीं करती.

ज्योतिषाचार्य प्रशांत कुमार

             संपर्क सूत्र: 8100778339              

ई—मेल:  [email protected]