बिना अध्यक्ष के चल रहे फोरम में मना उपभोक्ता दिवस

सासाराम: जागरूक उपभोक्ता ही बाजार में होने वाले शोषण से मुक्ति पा सकते हैं. इसके लिए हर उपभोक्ता को अपने कर्तव्य निभाने होंगे. यह बातें बुधवार को रोहतास जिला मुख्यालय स्थित उपभोक्ता संरक्षण अधिनियम के तहत गठित जिला उपभोक्ता फोरम में वकीलों और वादकारों को संबोधित करते हुए फोरम के सदस्य अमित कुमार ने कहीं. मौका था, उपभोक्ता दिवस के मौके पर आयोजित संगोष्ठी का जिसमें काफी तादाद में स्थानीय वकील मौजूद थे.

हालांकि यहां का फोरम सिर्फ नाम का रह गया है. पिछले एक वर्ष से रिक्त पड़े अध्यक्ष पद के कारण मामलों का निष्पादन ठप पड़ा है. नये अध्यक्ष की नियुक्ति की अब तक सुगबुगाहट नहीं मिलने से उपभोक्ता फोरम में दाखिल होने वाले मामलों की रफ़्तार काफी धीमी हो गई है. एक वर्ष पहले यहाँ के अध्यक्ष दिग्विजय सिंह के सेवा मुक्त होने के बाद से अमित कुमार व परवीन सलमा नामक दो सदस्यों के भरोसे रूटीन वर्क चल रहा है. फोरम में लगभग 325 मामले लंबित हैं. लगभग 125 मामले अंतिम सुनवाई के लिए लंबित हैं.

उपस्थित अधिवक्ताओं में से कई ने कहा कि सरकारी स्तर पर उपेक्षित उपभोक्ता न्यायालयों में अध्यक्ष के ना होने से काम काज बाधित हो रहे हैं. इसका सीधा असर वैसे लोगों पर पड़ता है, जो चाह कर भी समय से न्याय नहीं पा सकते हैं. कभी अध्यक्ष की कुर्सी खाली तो कभी सदस्यों की. यहाँ के फोरम में हम कई वर्षों से यही देख रहे हैं. उपस्थित अधिवक्ताओं में प्रमुख सीताराम गुप्ता, अरुण कुमार न 2, रमेश पांडेय, मो. युसूफ अंसारी, गुरु प्रसाद, सुरेन्द्र सिंह सहित अन्य कई थे.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*