अवैध संबध में अधेड़ की गोली मारकर हत्या, महिला हिरासत में

dead body

सासाराम, राजेश कुमार: अधेड़ अवस्था में आशिकी के शौक का नतीजा कितना भयंकर होता है, उसका नमूना गुरुवार की रात रोहतास जिले के दिनारा थाना क्षेत्र के डेल्हुआ गांव में देखने को तब मिला जब गांव की एक चर्चित महिला महिला के बुलावे पर देर रात उसके घर गए गांव के ही 50 वर्षीय अजय कुमार सिंह की पहले से घात लगाये हमलावरों ने गोली मार दी. इलाज के लिए ले जाने के क्रम में घायल ने देर रात दम तोड़ दिया.

 

इस मामले में घायल के बयान पर थाने में आधे दर्जन लोगो के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज की गयी है. पुरे घटनाक्रम की सूत्रधार मानी जाने वाली महिला को पुलिस हिरासत में लेकर पूछताछ करने में जुटी है. पहले से ही गांव के एक तालाब को लेकर दो गांवों के बीच चल रहे विवाद को इस घटना ने और भी गंभीर बना दिया है. तनाव को दीखते हुए पुलिस दोनों गांवो पर नजर बनाए हुयी है.   

dead body

 

मिली जानकारी के अनुसार डेल्हुआ ग्राम निवासी अजय सिंह और गांव की ही महिला सुंदरी देवी (बदला हुआ नाम) के बीच अवैध संबंध की चर्चा सरेआम रही है. इसी बीच इस संबंधो में एक तीसरे के शामिल होने से यह प्रकरण और भी रोचक बन गया. पुलिस की माने तो मृतक अजय ने मृत्यु पूर्व दिए अपने बयान में बताया है कि प्रकरण में शामिल उक्त महिला के बुलावे पर वे रात 9 बजे उसके घर गए.

वहा पहले से ही मौजूद डेल्हुआ के रघुनाथ साह व लक्ष्मण यादव, समीपवर्ती पानापुर गांव के परशुराम यादव व भगवानपुर गांव के लल्लू पासवान ने उन पर गोली चला दी. घायल अवस्था में उन्हें कोचस स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया जहाँ पुलिस ने डॉक्टर की मौजूदगी में उनका बयान दर्ज किया. घायल की स्थित गंभीर देख बेहतर इलाज के लिए वाराणसी भेजा गया. जहा रास्ते में ही उसने दम तोड़ दिया.

दिनारा थाने के एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि कोचस थाने की पुलिस द्वारा दर्ज किये गए मृत्युपूर्व बयान में इन चार लोगों के नाम आये है. शुरूआती तहकीकात में अजय को बुलाने वाली महिला की भूमिका संदिग्ध दिख रही है. इसे देख महिला को हिरासत में लिया गया है. इस बीच गांव में स्थित एक तालाब से मछली मारने को लेकर डेल्हुआ और पानापुर गांव के बीच चल रहे पुराने विवाद को भी जांच के केंद्रबिंदु में रखा गया है. फिलहाल नामजद चारो की गिरफ्तारी की कोशिशें जारी है.

 

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*