रंगदारी मांगने आये थे 4 बदमाश, गुस्साई पब्लिक ने सबको मार डाला

सासाराम, (राजेश कुमार): रोहतास जिले के दावथ थानाक्षेत्र के कोआथ बाजार में मंगलवार की सुबह दुकानदारों के हत्थे चढ़े चार बदमाश अस्पताल में जाकर दम तोड़ दिए. जबकि चार मौके से भाग निकलने में सफल रहे. मारे गए बदमाशो ने कुछ दिनों से कोआथ के व्यवसाइयों के नाक में दम कर रखा था. मारे गए बदमाशो के अब तक शिनाख्त नहीं हो सकी है. उनके पास से एक कट्टा, चार ज़िंदा कारतूस, चार गोली के खोखे और मोबाइलें बरामद हुयी है. काफी देर तक बाजार में अफरा तफरी का माहौल बना रहा. शवों को पुलिस ने अपने कब्जे में लेकर उन्हें पोस्ट मार्टम के लिए सासाराम भेजने की जुगत में है. बदमाशों द्वारा चलाई गयी गोली का शिकार हुआ बाजार का ही एक दूकानदार इलाज के लिए अस्पताल में भारती है.

मिली जानकारी के अनुसार कोआथ की जिला पार्षद रिंकी देवी के पति विशाल चौधरी (निवासी गीधा) की कोआथ बाजार में रेडीमेड कपडे की दूकान है. कुछ दिनों से उन्हें फोन पर और किसी ना किसी के माध्यम से रंगदारी की मांग की जा रही थी. नहीं देने पर उन्हें सबक सिखाने की बात कही जा रही थी. यही स्थिति कुछ अन्य दुकानदारों के साथ भी थी. इससे बाजार के दुकानदार पहले से ही खौल रहे थे. रंगदारी मांगने वाले भी इलाके के दबंग मानी जाने वाले एक तबका विशेष से सम्बन्ध रखने वाले बताये जाते है.

आज सुबह 7-8 बजे जैसे ही बाजार की दुकाने खुलनी शुरू हुयी. वैसे ही विशाल रेडीमेड के पास कुल तीन बाइकों पर सवार 8 युवक पहुँच आये. और जिला पार्षद के पति विशाल चौधरी से उलझ गए. इसी बीच एक बदमाश ने अपने पिस्तौल से गोली चला दी. जो विशाल के साथ खड़े कोआथ निवासी भूलन चौधरी को जा लगी. यह देख कर अन्दर से खौल रहे व्यवसायियों के सब्र का बाँध टूट गया. वे बदमाशों पर टूट पड़े. जिसे जो भी मिला (लाठी, फरनाठी, ईट-पत्थर) से अपराधियों की खैरियत लेने लगे. दुकानदारों के आक्रोश का शिकार बने चार बदमाशों को बाद में पुलिस अपने कब्जे में लेकर उन्हें अस्पताल पहुंचाया. जहा इलाज के क्रम में चार ने दम तोड़ दिया. उनकी पहचान अभी तक नहीं हो पायी है.

मौके पर पहुंचे दावथ के थानाध्यक्ष आलोक कुमार सिंह ने बताया कि सूचना मिलते हरकत में में आई पुलिस ने भीड़ के चन्गल से छुडा कर बदमाशो को पीएचसी भेजवाया जहा उनका इलाज शुरू हुआ. सूचना पाकर जिला पुलिस मुख्यालय से वरिष्ठ अधिकारी आ रहे है. अपराधियों की गोली से घायल भूलन चौधरी का इलाज चल रहा है जो खतरे से बाहर बताये जाते है. इस सम्बन्ध में कागजी कार्रवाई चल रही है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*