दो हार्डकोर नक्सली लेवी लेते धराये

सासाराम : रोहतास जिला के पहाड़ी इलाकों में नक्सली वारदात काफी तेजी से बढ़ने लगी है, करीब एक दशक पूर्व गोलियों की तड़तड़ाहट से गूंजने वाले गांव शांत हो गये थे. इस बीच नक्सली वारदातों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है तो पुलिस-प्रशासन भी लगातार अभियान चला रही है.

जिला के डेहरी अनुमंडल क्षेत्र के इंद्रपुरी थाना क्षेत्र से दो हार्डकोर नक्सलियों को लेवी लेते, अवैध डेटोनेटर के साथ पुलिस ने धर-दबोचा. पुलिस की यह बड़ी सफलता मानी जा रही है, कारण कि पकड़े गये एमसीसी से जुड़े दोनों नक्सलियों की पुलिस को पूर्व से ही कई मामलों में तलाश रही है. इन पर औरंगाबाद कोर्ट में हत्या के आरोप और नामजद अभियुक्त के रूप में मुकदमा चल रहा है.
प्राप्त जानकारी के मुताबिक डेहरी के इंद्रपुरी बराज के पास डीएसपी के नेतृत्व में छापेमारी दल ने बड़ेम, औरंगाबाद के अजय कुमार उर्फ बीरबल और इंद्रपुरी के ही धीरज कुमार को लेवी की राशि वसूलते गिरफ्तार किया. जिनके पास से 83 डेटोनेटर, बम बनाने की मशीन, तीन मोबाइल, तार, नक्सली साहित्य सहित कई अवैध समान पकड़े गये.

a

एक माह पूर्व लेवी के लिए नौहट्टा और नवीनगर में कार्यरत कंपनियों से लेवी मांगने में जिस नंबर का इस्तेमाल हुआ था वह मोबाइल भी बरामद हुआ है. छापेमारी दस्ता के नेतृत्वकर्ता डेहरी डीएसपी मो. जावेद अनवर ने प्रेस ब्रीफिंग कर इस संबंध में विशेष जानकारी देते हुए कहा कि हिरासत में लिये गये दोनों नक्सलियों ने नक्सली वारदात में शामिल होने की बात कबूली है, उनके मोबाइल कॉल डिटेल्स से कुछ और जानकारी मिलेगी, उनके द्वारा चिह्नित ठिकानों पर छापेमारी की जायेगी, जिससे अभियान को आगे बढ़ाने में काफी मदद मिलेगी.
वैसे बुधवार का दिन रोहतास जिला के पुलिस- प्रशासन के लिए काफी सरदर्द भरा रहा, डीएम-एसपी से लेकर तमाम मातहत अधिकारी और लगभग 20 थानों की पुलिस सासाराम शहर की सड़कों पर दिन भर दौड़ती रही. कभी बेदा-बनरसिया में मकानों को सील करने में तो कभी खनन क्षेत्र में छापेमारी, कहीं  नक्सलियों की धरपकड़ तो कहीं पहाड़ों में नक्सलियों द्वारा जेसीबी जलाने-फायरिंग के तांडव के पीछे भागती पुलिस. सुबह आठ बजे से पुलिस-प्रशासन का यह नॉन स्टॉप छापेमारी और सर्च अभियान देर शाम तक चलता रहा.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*