दहेज प्रथा व बाल विवाह के खिलाफ लोगों को जागरूक होने का मुख्यमंत्री ने किया आह्वान

समस्तीपुर/दलसिंहसराय: मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने लोगों से आह्वान किया है कि समाज में वर्षाें से चली आ रही दहेज प्रथा व बाल विवाह का समाजिक स्तर पर बहिष्कार करें. उन्होंने यह भी कहा कि जो लोग दहेज लेकर शादी—विवाह में निमंत्रण देकर बुलावें उनके यहां जाने से लोग परहेज करें ताकि उन्हें लगे कि उनका सामाजिक स्तर पर बहिष्कार किया जा रहा है. उन्होंने यह भी कहा कि शराबबंदी के बाद उनका यह दूसरा अभियान है जिसमें समाज के सभी लोगों से सहयोग करने की अपील की है.
मुख्यमंत्री आज दोपहर बाद प्रखंड के रामपुर जलालपुर गांव में निजी क्षेत्र में स्थापित किये गये आरएल महतो इंस्टीट्यूट आॅफ एजुकेशन के उद्घाटन समारोह पर कही. उन्होंने अपनी सरकार की उपलब्धियों पर चर्चा करते हुये कहा कि साइकिल योजना की शुरूआत होने पर लड़के एवं लड़कियों में पढ़ने की होड़ लग गयी है. अब विद्यालय में लड़कियों की संख्या भी लड़कों के बराबर हो गयी है.
उन्होंने बताया कि अभी तक शिक्षा के विकास के लिये 21 हजार करोड़ खर्च किये जा रहे थे जिसे बढ़ाकर अब 25 हजार करोड़ कर दिया  जायेगा. साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि बंद ट्रेनिंग काॅलेजों में पुनः पठन-पाठन शुरू करने के लिये अब तक 24 सौ करोड़ रूपये खर्च किये गये हैं.
मुख्यमंत्री ने बिहार के छात्रों की क्षमता पर चर्चा करते हुये कहा कि आज पूरे देश और दुनिया में यहां के छात्र अपनी प्रतिभा का डंका बजा रहे है. बिहार के लड़कों में इतनी क्षमता है कि अगर चांद पर भी बहाली हो तो वहां भी ये सभी अगली लाइन में खड़े रहेंगे. उन्होंने बिहार के विकास पर चर्चा करते हुये इस बात को स्वीकार किया कि कुछ क्षेत्रों में गड़बड़ियां हुई हैं जिसकी जांच-पड़ताल करायी जा रही है.
गड़बडी करने वाले लोग किसी भी सूरत में बख्शे नहीं जायेगें. कानून अपना काम कर रहा है. इस अवसर पर उपस्थित बिहार विधान सभा के अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी ने भी गुणवत्तापूर्ण शिक्षा पर चर्चा करते हुये कहा कि सरकार सभी पंचायतों में बारहवीं स्कूल खोलने पर गंभीरता से विचार कर रही है.
समारोह की अध्यक्षता व मंच संचालन पूर्व मंत्री राम लखन महतो ने किया जबकि समारोह को मंत्री आलोक मेहता, मंत्री मंजू वर्मा, सांसद रामनाथ ठाकुर, विधायक राम बालक सिंह व आर्यभट्ट विश्वविद्यालय के कुलपति डाॅ. समरेन्द्र प्रताप सिंह समेत कई अन्य लोगों ने संबोधित किया. अतिथियों का स्वागत संस्था के निदेशक प्रशांत कुमार पंकज ने किया जबकि धन्यवाद ज्ञापन संस्था के ट्रस्टी इंजीनियर सुशांत कुमार ने किया. इस समारोह में काफी संख्या में महागठबंधन के समर्थकों के अलावा गणमान्य लोग एवं शिक्षाविद् आदि उपस्थित थे. इस अवसर पर मुख्यमंत्री को गार्ड आॅफ आॅनर भी दिया गया. साथ ही मुख्यमंत्री ने संस्था के कैंपस में पौधारोपण भी किया.