माले विधायक बोले, जमींदारों के कब्जे से ली जायेगी गैरमजरूआ जमीन

समस्तीपुर : जिला मुख्यालय से 80 किलोमीटर पर स्थित विथान प्रखंड के पुसहो गांव में आज भाकपा माले द्वारा एक जन अधिकार सभा का आयोजन किया गया. इस सभा को संबोधित करते हुये भाकपा माले के विधायक सत्यदेव राम ने कहा कि पिछले 70 वर्षों से भूमिहीनों द्वारा घर बनाने के लिये सरकारी एवं गैरमजरूआ जमीन की मांग की जाती रही है.

सरकार भूमिहीनों की मांगों को अबतक अनदेखी करती रही है. अब ऐसा नहीं होगा. अब कोई भी भूमिहीन सरकार से जमीन मांगने के बदले गैरमजरूआ एवं जमींदारों के कब्जे से सरकारी भूमि को सीधे तौर पर अपने अधीन कर लेगी और इसपर भूमिहीनों द्वारा अपना कब्जा कर घर बनाया जायेगा. इस पर अगर किसी भी तरह का विरोध हुआ तो माले कार्यकर्ता भूमिहीनों के पक्ष में लाल झंडा लेकर इसकी लड़ाई लड़ने में पीछे नहीं रहेगा.

विधायक ने यह भी कहा कि प्रखंड स्तर से लेकर जिला स्तर तक सभी अधिकारी सामंत एवं जमींदारों का पक्ष लेते आ रहे हैं. इनके कब्जे में सरकारी व गैरमजरूआ जमीन रहते हुये भी इन सबों पर कोई भी कार्रवाई नहीं की जा रही है. उल्टे भूमिहीनों द्वारा इस तरह की जमीन पर अपना सर छुपाने के लिये घर बना लिया जाता है तो गरीबों पर हमला किया जाता है.

इसमें सभी की मिलीभगत होती है. अब इसका जोरदार विरोध किया जायेगा और ऐसा करने वालों के विरूद्ध मुंहतोड़ जवाब भी दिया जायेगा. इसके साथ ही विधायक ने राज्य एवं केन्द्र सरकार पर कई गंभीर आरोप लगाते हुये कहा कि देश के प्रधानमंत्री को अंबानी एवं अडानी की चिंता है.

किसान एवं गरीबों से इन सबों को होने वाली परेशानियों से कोई वास्ता नहीं रह गया है. हर दिन देश में किसान आत्महत्या कर रहे हैं. किसानों के कर्ज की माफी नहीं हो रही. जबकि गांव में रहने वाले किसान घाटे में रहकर भी फसल का उत्पादन कर रहे हैं. ऐसी स्थिति में अब हमें एकजुटता का परिचय देते हुये राज्य एवं केन्द्र सराकर के विरूद्ध लंबी लड़ाई लड़नी पड़ेगी.

इस सभा की अध्यक्षता पुसहां पंचायत के सचिव सह प्रखंड कमिटि सदस्य राजेंद्र प्रसाद सिन्हा ने की. सभा को महेन्द्र मुखिया, राजेंद्र पासवान, जयदेव पासवान, वसंत पासवान, इनौस के नेता सुरेंद्र प्रसाद सिंह, माले के जिला सचिव प्रो. उमेश कुमार आदि ने भी संबोधित किया. बता दें कि पुसहां पंचायत में स्थित दो एकड़ सरकारी जमीन पर माले के झंडा व बैनर तले भूमिहीनों द्वारा कब्जा कर घर बना लिया गया है. इसी को लेकर इस जन अधिकार सभा का आयोजन किया गया था.