विकास की क्रांति में महिलाओं की भूमिका अहम : डीडीसी

समस्तीपुर/विघापतिनगर(सोनी पद्माकर): विकास की क्रांति में महिलाओं की भूमिका अहम होती है. वे न केवल अपने परिवार के विकास को लेकर तमाम तरह की सहनशीलता का परिचय देते हुए विकास रूपी गाड़ी को बढाती है बल्कि समाज के लिए भी अनुकरणीय होती है. उक्त बातें उप विकास आयुक्त वरूण कुमार मिश्रा ने आज अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर सर्वोत्तम ग्राम पंचायत हरपुरबोचहा सचिवालय परिसर में आयोजित महिला सशक्तिकरण दिवस के शुभारंभ करते हुए कही. उन्होंने कहा कि महिला पूरे समाज को सही राह दिखा सकती है. महिला सशक्तिकरण की दिशा में यह पंचायत पूरे सूबे में अनुकरणीय हैं.

प्रभारी डीएम ने कहा कि पंचायत राज व्यवस्था के सशक्तिकरण में महिला संगठित होकर विभिन्न स्तरों पर बहुत सारे प्रयास कर समाज का वातावरण सुखद बना रही है. उन्होंने स्थानीय मुखिया प्रेमशंकर सिंह द्वारा चलाए जा रहे विकासयीय कार्यों की प्रशंसा करते हुए स्वच्छता जागरूकता अभियान पर जोर देने की वकालत करते हुए उपस्थित महिलाओं के जनसमूह से कहा कि महिला घर की इज्जत होती है. मुखिया प्रेमशंकर सिंह ने कहा कि महिला के सम्मान में घर मे शौचालय होना आवश्यक है. सभी अपने घरों में शौचालय का निर्माण कर पंचायत को खुले में शौच से मुक्त पंचायत घोषित करवाने की दिशा में पहल करें. तभी महिला वास्तविक रूप से सशक्त हो सकेगी.

इस दौरान महिलाओं ने अपने पंचायत को खुले में शौच से मुक्त पंचायत बनाने का संकल्प भी लिया. मुख्य अतिथि बीडीओ मो.नजीब अनवर ने कहा कि बिहार में महिला सशक्तिकरण बहुत तेजी से हो रहा है. हर पुरुष के कामयाबी के पीछे किसी न किसी महिला का हाथ होता है. इधर, महिला सशक्तिकरण दिवस पर पंचायत के वार्ड 6 को ओडीएफ घोषित होने पर महिला वार्ड सदस्य सोनफी देवी को सम्मानित जिला प्रशासन की ओर से किया गया. अध्यक्षता मुखिया प्रेमशंकर सिंह ने की.

महिला दिवस पर मनरेगा पार्क में डीडीसी वरुण कुमार मिश्रा सहित अन्य लोगों ने चंदन, धूप आदि का पौधरोपण किया. कार्यक्रम के उपरांत शौचालय निर्माण हेतु गड्ढा खोदो अभियान का शुभारंभ भी किया गया. इस दौरान अधिकारियों शौचालय निर्माण कार्यो का जायजा लिया व आवश्यक सलाह दिया. कार्यक्रम को सीओ रमेश कुमार, बीपीआरओ निरंजन कुमार सिंह, जिला पार्षद अर्चना सिंह ने संबोधित किया. मौके पर सरपंच सोनेलाल चौधरी, ललन कुमार सिंह, प्रो.संजीव कुमार सिंह, सुरेश राय, बिरजू पासवान, परम चौरसिया आदि मौजूद रहे.