रेप की घटनाओं की विरोध में समस्तीपुर के मुस्लिम युवाओं ने निकाला जुलूस

समस्तीपुर(राजू गुप्ता): शहर में आज रविवार को मुस्लिम युवाओं ने कठुआ और उन्नाव की गैंगरेप घटनाओं के विरोध में प्रदर्शन करते हुए जुलूस निकाला. मुस्लिम स्टूडेंट्स हाथों में जस्टिस फ़ॉर अशिफ़ा लिखे बैनर लेकर गणेश चौक से लेकर गांधी स्मारक तक विरोध मार्च निकाला.
विरोध मार्च में मोदी और योगी सरकार के मुर्दाबाद के नारे लगाए गए. इस दौरान पीड़ितों को न्याय दिलाने की मांग की गई. इस विरोध मार्च में काफी संख्या में मुस्लिम युवाओं ने भाग लिया. युवाओं ने कहा कि यह हिंदू मुस्लिम की बात नहीं है, बल्कि इंसानियत की बात है और पीड़ित को न्याय मिलना चाहिए.

मौके पर लोगों ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बेटी बचाओ का नारा देते हैं, लेकिन इन्ही के विधायक रेप में शामिल रेपिस्ट को बचाते हैं. छात्रों ने एक स्वर में रेपिस्ट्स को कड़ी सजा देने की बात कही. ज्ञापन के माध्यम से मांग कि है कि मासूम आशिफा के साथ दरिंदगी करने वाले लोगों को गिरफ्तार किया जाए. दोषियों सख्त सजा दी जाएं. साथ ही उन्नाव गैंगरेप केस में कड़ी कार्रवाई करने की मांग उठाई.

आगे होगा और भी बड़ा जुलूस

जमशेद आदिल ने बताया कि आपको मालूम होगा कि उन्नाव और कठुआ में एक बच्ची का रेप हुआ है. यूपी में भी जिसमे एक भाजपा के नेता भी आरोपी है. 9 अप्रैल को इंसाफ के बदले उसके पिता की हत्या कर दी जाती है. कठुआ में बच्ची को उठाकर बलात्कार किया जाता है. हम डिमांड करते है कि रेपिस्ट को फांसी की सज़ा हो सरकार हमारी बात नही मानती है तो इससे भी बड़ा आंदोलन होगा. अभी तो यह छोटा सा जुलूस है, आगे कहानी बाकी है.

बेलाल राजा ने बताया कि समस्तीपुर आज रैली विरोध में निकाली गयी है. कोई भी कातिल रेपिस्ट किसी धर्म का नही होता है उसकी एक ही सज़ा है वो है फांसी. जुलूस में सैयद दानिश रहमान, अली इकबाल, शाद ए डब्लू सबा, साकिब आलम, सैयद जमशेद, आदिल आरिफ, आजाद सदाब,काजमी फैजान, अबू तनवीर, मोहम्मद आसिफ, सैय्यद आतिफ वारसी, राहिल मसीह, बेलाल राजा ,सैफुद्दीन राजा, सिद्दीकी सरवर, अली सारिक इब्राहिम समेत काफी संख्या में लोग शामिल थे.