समस्तीपुर : दिखावे की वस्तु बन कर रह गया है ATM काउंटर, हर जगह लगा है No Cash का बोर्ड

समस्तीपुर/रोसड़ा(राजू गुप्ता): क्षेत्र में एटीएम काउंटर दिखावे की वस्तु बन कर रह गयी है. इनपर भरोसा कर उपभोक्ता औंधे मुंह गिर रहे है. रुपयों की जरूरत पर एटीएम यूजर मूर्खो की तरह बौखते नजर आते है. खासकर बैंक के बन्द रहने पर तो लोगों की स्थिति और भी बदतर हो जाती है. शनिवार को पूरे रोसड़ा बाजार में एटीएम में कैश नही रहने से सैंकड़ों व्यक्ति परेशान दिखे. एटीएम यूजरों के मुताबिक आज किसी भी एटीएम मशीन से रुपयों की निकासी नहीं हुई. लोगों का कहना था कि ऐसे ही अगर सारे एटीएम में रुपये नही रहे तो यूजरों को इसकी भारी कीमत चुकानी पड़ सकती है.

उपभोक्ताओं का कहना है कि पैसों की जरूरत हर दिन पड़ रही है. किसी को मरीज का इलाज कराना है, किसी को बच्चे की पढ़ाई-लिखाई के लिए, किसी को राशन-पानी, किसी को शादी-ब्याह के लिए मार्केटिंग करनी है. रुपयों के अभाव में जरुरी कार्य कैसे होगा लोग यही पूछ रहे थे. उपभोक्ताओं ने बताया कि शहर का बैंक ऑफ इंडिया, सेंट्रल बैंक, यूनियन बैंक, केनरा बैंक, एक्सिस बैंक, यूको बैंक समेत सारे बैंकों के एटीएम बंद है. कुछ बैंक का एटीएम काउंटर दिखावा के लिए खुला हुआ है पर रुपयों की निकासी नहीं हो रही है.

कहीं No Cash, तो कहीं मशीन खराब

बता दें कि एटीएम सुविधा मिलने के बाद लोग इसपर काफी आश्रित रहने लगे है. वक्त पर एटीएम से रुपए निकाल काम करने की आदत बन गयी है. ऐसे में एटीएम में से रूपये नहीं निकलने से लोगों को काफी दिक्कत रही है. पिछले काफी दिनों से एटीएम से रुपया निकालना मुश्किल काम होता जा रहा है. अधिकांश काउंटर का मशीन खराब या no cash की स्थिति बनी हुई है. शहर में दो-तीन एटीएम मशीन ही रुपया देती नजर आती थी. आज शनिवार को वो भी रूठ गयी. जिससे यूजरों को दिन में ही तारे नजर आने लगे. बैंक बन्द रहने से यूजरों की स्थिति काफी दयनीय दिखी.

समस्तीपुर रेल मंडल को मिला 10 अवार्ड, स्वच्छता के लिए मधुबनी को मिला देश में पहला स्थान