उत्तर बिहार के जिलों में वर्षा की सक्रियता में होगी वृद्धि, मौसम विभाग ने दी जानकारी

मौसम विभाग, समस्तीपुर न्यूज़, उत्तर बिहार, बिहार न्यूज़, हिंदी समाचार, weather forecast, न्यूज़, समाचार

समस्तीपुर : जिले के पूसा स्थित डॉ राजेंद्र प्रसाद केंद्रीय कृषि विश्वविद्यालय के मौसम विभाग द्वारा जारी मौसम पूर्वानुमान में बताया गया है कि उत्तर बिहार के जिलों में आगामी 15 अगस्त तक वर्षा की सक्रियता में वृद्धि हो सकती है. मैदानी तथा तराई वाले क्षेत्रों में मध्यम दर्ज की वर्षा होने की संभावना है. इस अवधि में 4 से 6 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से पूर्वा हवा चलेगी.

जबकि 13 से 15 अगस्त के बीच पछुआ हवा चलने की संभावना है. सुबह में सापेक्ष आद्रता 85 से 90  प्रतिशत तथा दोपहर में 60 से 70 प्रतिशत के बीच रहने की संभावना है. इस अवधि में अधिकतम तापमान 33 से 35 डिग्री सेल्सियस एवं न्यूनतम तापमान 26 से 28 डीग्री के बीच रहेगी.

यह भी पढ़ें: समस्तीपुर में सड़क हादसा, अनियंत्रित बस ने फल दुकानों और तोरणद्वारों में मारी टक्कर

किसानों के लिए सुझाव : मौसम को देखते हुये विश्वविद्यालय के कृषि वैज्ञानिकों ने किसानों को सुझाव देते हुए कहा है कि

1. यह मौसम धान की रोपाई के लिये काफी अनुकूल है. जिन खेतों में अभी तक धान की रोपाई नहीं की गयी है उसमें यथाशीघ्र रोपनी कर दें.

2. इसके साथ ही वैज्ञानिको ने यह भी सुझाव दिया है कि रोपे हुये धान की फसल में खरपतवार नियंत्रण को प्राथमिकता के आधार पर पुरा करें.

3. खरीफ अरहर की बुआई समाप्त कर लें. इसके साथ ही प्याज के लिये पौधों की रोपाई 15ग10 सेंटिमीटर तथा मिर्च के लिये 50ग45 सेंटिमीटर की दूरी पर इसकी रोपाई करें.

4. वर्षाती सब्जियों में निकाई गुराई का भी काम समाप्त कर लें. कीटजनित रोगों के बचाव के लिये इमिडाइक्लोरोप्रिड दवा का 0.3 मिली लीटर प्रति लीटर पानी की दर से घोल बना कर इसका छिड़काव करें.

5. फलदार पौधे के बगान लगाने के लिये भी वैज्ञानिकों ने इस मौसम को काफी उपयुक्त बताया है. आम, लीची, आंवला, अमरूद, कटहल, शरीफा, नीबू आदि के स्वस्थ्य पौधों को अधिकृत नर्सरी से खरीदकर इसे बगीचे मे लगावें.

देखें वीडियो: