समस्तीपुर: अपराधियों ने पुलिस हिरासत से हथकड़ी समेत दो आरोपितों को भगाया

चाबी रह गई जेब में, हथकड़ी समेत हुआ फरार

लाइव सिटीज, समस्तीपुर: कल्याणपुर थाना क्षेत्र के वीरसिंहपुर चौक के समीप दरभंगा-समस्तीपुर मार्ग पर पूर्व से घात लगाए अपराधियों ने हथियार के बल पर पुलिस हिरासत से हथकड़ी समेत दो आरोपितों को लेकर फरार हो गया. इसका विरोध करने पर तीन चौकीदार को पिस्तौल के बट से मारपीट कर जख्मी कर दिया.

अपराधियों के साथ फरार आरोपित शराब कांड का अभियुक्त बताया गया है. रविवार की देर रात पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर छापेमारी कर काफी मशक्कत के बाद दोनों आरोपितों को जखड़ा गांव के मोदी राय के घर से गिरफ्तार किया था. फरार आरोपित अजना पंचायत स्थित जखड़ा निवासी मोदी राय के पुत्र दिलीप राय तथा वीरसिंहपुर निवासी जयकिशुन साह का पुत्र संतोष साह बताया गया है.

घटना के बाद पुलिस अपराधियों के संभावित ठिकानों पर छापेमारी कर रही है. बताया गया है कि रविवार की देर रात पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर छापेमारी कर जखड़ा निवासी मोदी राय के घर से दोनों आरोपितों को गिरफ्तार किया था. मंगलवार को थाना से तीन चौकीदारों के साथ दोनों आरोपितों को हथकड़ी लगाकर टैंपो से न्यायालय ले जाया जा रहा था.

इसी बीच वीरसिंहपुर चौक के समीप पूर्व से घात लगाए दो बाइक पर सवार पांच- छह की संख्या में अपराधियों ने हथियार के बल पर टैंपो रोक दिया. वाहन रुकते ही हथियार का भय दिखाकर क्रिकेट के बैट और पिस्तौल के बट से तीनों चौकीदारों को मारपीट कर जख्मी कर दिया. इसके बाद हथकड़ी समेत दोनों आरोपितों को लेकर फरार हो गए. घटनास्थल से जख्मी चौकीदार सुन्देश्वर पासवान, विन्देश्वर पासवान एवं नंदु दास ने मोबाइल पर थानाध्यक्ष ब्रजकिशोर सिंह को इसकी सूचना दी.

सूचना मिलते ही दलबल के साथ थानाध्यक्ष घटनास्थल पर पहुंच गए. घायल चौकीदारों को स्थानीय पीएससी में भर्ती कराया गया है. पुलिस ने अपराधियों के भागने की दिशा में पीछा करना शुरू कर दिया है. इस क्रम में थानाक्षेत्र के मंजिल मुबारक और अजना के बीच चौर में पुलिस ने लाल रंग की एक ग्लैमर बाइक भी जब्त की है. थानाध्यक्ष ने बताया कि आसपास के कई थानों की पुलिस से सहयोग लिया जा रहा है. अपराधियों के संभावित ठिकानों पर छापेमारी की जा रही है. जल्द ही अपराधियों को पकड़ लिया जाएगा.

फरार आरोपित शराब कांड के दो मामलों का है अभियुक्त

पुलिस हिरासत से फरार दोनों आरोपित शराब कांड मामले का आरोपित है. पुलिस ने बताया कि दोनों के खिलाफ शराब कारोबार के मामले दर्ज हैं. बता दें कि रविवार की देर रात गुप्त सूचना के आधार पर पुलिस ने एएसआई बांके बिहारी के नेतृत्व में थानाकांड संख्या 72/19 के आरोपित दिलिप राय और जयकिशुन साह को जखड़ा स्थित मोदी राय के घर से गिरफ्तार किया था.

इस दौरान पुलिस से बचने के लिए हमले का भी प्रयास किया था. हालांकि पुलिस ने सूझ- बूझ से दोनों को गिरफ्तार कर लिया. इससे पूर्व भी दोनों थाना कांड संख्या 60/19 का आरोपित रह चुका है. छापेमारी दल में सशस्त्र बल रामचंद्र मंडल, कृष्णा कुमार, सिकंदर मुखिया भी शामिल थे.

चाबी रह गई जेब में, हथकड़ी समेत हुआ फरार

जिले में इन दिनों अपराधियों के हौसले बुलंद हैं. इन अपराधियों को अब पुलिस का भय भी नहीं रहा. मंगलवार को दिन दहाड़े पुलिस हिरासत से हथकड़ी समेत आरोपित को लेकर फरार हो गए. इससे एक बार फिर पुलिस की सुरक्षा व्यवस्था पर प्रश्नचिन्ह खड़ा हो गया है. बता दें की रविवार को देर रात एक एसआई और तीन सशस्त्र बल के जवानों ने काफी मशक्कत के बाद दोनों आरोपित को गिरफ्तार किया था. इस दौरान बचने के लिए दोनों ने हमले का प्रयास भी किया था.

मंगलवार को सुबह उसी दोनों आरोपितों को मात्र तीन चौकीदार के भरोसे टैंपो से न्यायालय लाया जा रहा था. अपराधियों से सुरक्षा के लिए इनके पास कोई हथियार नहीं था. इसी बीच हथियारबंद अपराधियों ने हमला कर पुलिस हिरासत से दोनों को लेकर फरार हो गए. इससे पुलिस की लापरवाही स्पष्ट नजर आ रही है. अपराधियों द्वारा पुलिस से बचने के लिए तरह तरह के प्रलोभन भी दिए जाते हैं.