मछली मारने को लेकर खूनी संघर्ष, चली गोली

शेखपुरा : उमेश कुमार :  जिले के ऐतिहासिक और सबसे बड़े जलाशय मटोखर तालाब में मछलियों के लिए खूनी खेल एक बार फिर शुरू हो गया है. गुरुवार की रात सो रहे मछुआरे को निशाना बना अपराधियों ने दर्जनों राउंड फायरिंग की और मछुआरों की जमकर पिटाई की गयी. जाते-जाते अपराधियों ने तालाब में मछली न मारने की धमकी भी दी. इस घटना के दौरान बेगुसराय जिला निवासी रामदेव साहनी जख्मी हो गया तथा अन्य मछुआरे भी चोटिल हुए.

घटना के संबंध में घायल हुए मछुआरे रामदेव सहनी ने बताया कि मटोखर दह में मछली मारने के लिए चमक लाल सहनी ने उन मच्छुआरों को बुलाया था. गुरूवार देर शाम पहुंचे सभी मछुआरे खाना खाकर मटोखर में ही एक मकान में सो गए… जहां देर रात करीब दर्जन भर अज्ञात अपराधी पहुंचे और पहले तो फायरिंग की जिससे सभी मछुआरे इधर-उधर भागने लगे… बाद में अपराधियों ने मछुआरे रामदेव साहनी को पकड़कर उसकी जमकर पिटाई कर चलते बने. घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने मछुआरे को सदर अस्पताल में भर्ती कराया और घटनास्थल से कई कारतूस के खोखा भी बरामद किया है. इस मामले में बालमुकूंद यादव समेत पांच के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है. साथ ही आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है. गौरतलब है कि मटोखर तालाब में पहले भी मछली मारने को लेकर हिंसा हो चुकी है. सौ बीघा से अधिक फैले इस तालाब में लगभग 50 लाख रूपये से अधिक की मछली होने का कयास लगाया जा रहा है.

sekh1

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*