शिक्षा विभाग की बैठक में डीईओ ने खोली शिक्षकों की पोल, सिलेबस पर डाला ज़ोर

sheikhpura
शेखपुरा (ललन कुमार): शेखपुरा डीईओ मो. तकिउद्दीन ने शिक्षा विभाग की बैठक में अपने वरीय अधिकारियों के समक्ष शिक्षकों की पोल खोल कर रख दी. डीईओ ने बैठक की समीक्षा कर रहे डीडीसी निरंजन कुमार झा को बताया कि शिक्षक क्लास में सिलेबस पूरा नहीं करते हैं. शिक्षक पूर्व तैयारी कर अपने क्लास में पढ़ाने नहीं जाते हैं. शिक्षक सिलेबस के अनुसार क्लास में नहीं पढाते हैं. वे स्वाध्याय कर क्लास जाएंगे तभी तो गुणवत्ता पूर्ण शिक्षा दे पाएंगे. यही वजह है कि इस बार परीक्षा परिणाम ठीक नहीं रहा. इसकी जानकारी देते हुए डीपीआरओ योगेंद्र लाल ने बताया कि बैठक में डीडीसी ने पढाई में गुणवत्ता लाने का निर्देश डीईओ को दिया है. उन्होंने बताया कि उ.म.वि कुंडा के हेडमास्टर पर भवन निर्माण में शिथिलता बरतने को लेकर प्रपत्र—क गठित कर दिया गया है.
साथ ही उन पर विभागों कार्रवाई किये जाने की सूचना डीएम को तीन दिनों के अंदर उपलब्ध कराने का निर्देश दिया गया है. उन्होंने बताया कि बरसात को देखते हुए एमडीएम में बैंगन, पालक साग, पत्ता गोभी, भिंडी की सब्जी के प्रयोग पर प्रतिबंध लगा दिया गया है. एमडीएम में साफ—सफाई रखने को कहा गया है. किसी प्रकार की घटना एमडीएम के चलते घटित होने पर सीधे—सीधे इसके लिए साधनसेवी जिम्मेवार होंगे. उन्होंने बताया कि 1.20 लाख नामांकित स्कूली बच्चों में 87 हजार बच्चों का आधार कार्ड बना दिया गया है.
sheikhpura
आधार कार्ड से स्कूली बच्चों का लिंकेज होने से फर्जी नामांकन वाले छात्र स्वतः हटने लगे हैं. डीईओ के द्वारा विद्यालयों के निरीक्षण के दौरान 41 शिक्षक अनुपस्थित पाए गए थे. अनुपस्थित शिक्षकों का एक दिन का वेतन काटने का निर्देश दिया गया है. साथ ही इसकी चर्चा उनकी सेवा पुस्तिका में कर दिए जाने का भी निर्देश दिया गया है. डीपीआरओ ने बताया कि 6-14 आयु वर्ग के स्कूली बच्चों का नि:शक्तता प्रमाण—पत्र बनना था. जो बच्चे प्रमाण—पत्र बनवाने से वंचित रह गए हैं उनका जून माह के अंत तक शिविर लगाकर प्रमाण—पत्र बनाने का निर्देश दिया गया है. इस मौके पर डीईओ, एमडीएम पदाधिकारी शैलेन्द्र सिंह, सभी प्रखंडों के बीईओ समेत अन्य पदाधिकारी मौजूद थे.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*