JE हत्याकांड: आरोपी बेटे को बचाने के लिए सड़क पर उतरा बाप

शेखपुरा.(ललन कुमार) : रविवार सुबह करीब 9 बजे कारे गाँव के पास ग्रामीणों के सहयोग से मनरेगा जेई हत्याकांड में मुख्य अभियुक्त बने बेटे बालमुकुंद यादव को बचाने के लिए वकील बाप बनारसी यादव ने शेखपुरा-बरबीघा मुख्य सड़क मार्ग को जाम कर दिया. सड़क जाम की सूचना मिलते ही सदर थाना की पुलिस घटना स्थल पर पहुंची. ग्रामीणों ने पुलिस पर पथराव शुरू कर दिया.

इस पथराव में एक पत्रकार  भी चोटिल हो गए. पुलिस की संख्या कम होने के कारण पुलिस को करीब सौ मीटर पीछे हटना पड़ा. आक्रोशित ग्रामीण पुलिस को उकसा रहे थे. पुलिस भी हथियार ताने खड़ी थी. पुलिस ने घटना तनाव पूर्ण होने की सूचना अपने वरीय पदाधिकारियों को दी.

a1

सूचना मिलने के बाद एसडीपीओ अमित शरण, सदर एसडीओ सुबोध कुमार, सदर बीडीओ सुनील कुमार चाँद दल बल के साथ पहुंच गए. देखते देखते घटना स्थल पुलिस छावनी में तब्दील हो गया. अरियरी, सिरारी, महिला थाना और सदर थाना के थानाध्यक्ष भी अपने पुलिस बल के साथ घटना स्थल पर पहुँचें. होमगार्ड के जवानों ने भी अपना मोर्चा संभाला. सदर एसडीओ ने ग्रामीणों को काफी समझाया जिसके बाद सड़क जाम खत्म हुआ.

A

ग्रामीणों ने पुलिस पर आरोपकि मनरेगा जेई हत्याकांड के आरोपी बालमुकुंद यादव की गिरफ्तारी के लिए बीती रात कारे गाँव के विभिन्न घरों में संदेह के आधार पर पुलिस ने बिना सर्च वारंट के ही तलाशी की. इस दौरान पुलिस ने महादलित के घरों में महिलाओं के साथ दुर्व्यवहार भी किया.

इसी दुर्व्यवहार को लेकर वे सभी ग्रामीण सड़क जाम कर धरने पर बैठे हैं. आक्रोशित ग्रामीणों ने सदर थानाध्यक्ष संतोष कुमार को टाउन थाना से हटाने और जेई हत्याकांड को सीबीआई से जांच कराने की मांग की. वहीं हत्याकांड आरोपी के वकील पिता बनारसी यादव ने कहा कि पुलिस उसके बेटे बालमुकुंद को एक षड्यंत्र के तहत जेई हत्याकांड में फंसा रही है. वह निर्दोष है. वह कारे पंचायत के मुखिया के साथ-साथ नियोजित शिक्षक भी है.

आपको बता दें कि पिछले मंगलवार को शाम ढलते ही मनरेगा में जेई के पद पर कार्यरत उज्ज्वल राज को गोली मार कर अपराधियों ने हत्या कर दी थी. इस हत्याकांड में बालमुकुंद यादव को मुख्य आरोपी बनाया गया है. फिलहाल वह पुलिस की पकड़ से बाहर है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*