शेखपुरा: लाइसेंसी हथियारों का भौतिक सत्यापन नहीं कराने वालों का लाइसेंस होगा रद्द

शेखपुरा(नीतीश कुमार) : शेखपुरा जिले में हथियारों का भौतिक सत्यापन नहीं कराने वालों के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी गयी है. लोकसभा चुनाव में लाइसेंसी हथियारों के भौतिक सत्यापन के लिए जिला प्रशासन ने दो बार तिथि को सार्वजनिक कर के सभी थानों में हथियारों का भौतिक सत्यापन कराने के लिए शिविर लगाया था. इसके बावजूद 51 लोगों ने अपने हथियारों का सत्यापन नहीं कराया इन लोगों ने अपने हथियार भी जमा नहीं किए. जिसे लेकर शेखपुरा जिले के दोनों विधायकों जिला के पूर्व डीएम बालेश्वर दास तथा पूर्व डीडीसी ऋषिकेश शर्मा, दीपक कुमार सहित 51 लोगों के नाम से जारी हथियारों के लाइसेंस रद्द कर दिए जाएंगे.

इन लोगों ने दो बार दिए गए सत्यापन की तिथि के बावजूद हथियारों का सत्यापन नहीं कराया. जिन लोगों का नाम इस सूची में शामिल है उनमें शेखपुरा के जदयू विधायक रणधीर कुमार सोनी तथा बरबीघा से कांग्रेस विधायक सुदर्शन कुमार का भी नाम शामिल है. इसके लिए डीएम के स्तर से कार्रवाई शुरू कर दी गई है.

इस मामले में अंतिम फैसला लेने से पहले डीएम ने एसपी से मंतव्य मांगा है. इसकी जानकारी देते हुए पुलिस अधीक्षक दयाशंकर ने बताया कि लाइसेंस रद्द करने से पूर्व एक बार सत्यापन नहीं कराने के कारण के बारे में पूछा जाएगा. यदि इस संबंध में बताए गए कारण से विभाग संतुष्ट नहीं होता है .तो लाइसेंस रद्द कर दिया जाएगा.

बता दें कि जिला लोकसभा चुनाव के दौरान अपने हथियारों का भौतिक सत्यापन नहीं कराने वालों के खिलाफ कार्रवाई शुरू की गई है. लोकसभा चुनाव में लाइसेंसी हथियारों के भौतिक सत्यापन के लिए जिला प्रशासन ने दो बार तिथि को सार्वजनिक कर के थानों में शिविर लगाया. शेखपुरा जिला में 456 हथियार के लाइसेंस जारी किया हुआ है. इसमें दो बार के शिविरों में 405 हथियारों का सत्यापन किया गया. इसमें से 51 लोगों ने अपने हथियारों का सत्यापन नहीं कराया. इन लोगों ने अपने हथियार भी जमा नहीं किए. अब इन्हीं लोगों के खिलाफ लाइसेंस रद्द करने की कार्रवाई शुरू की गई है.

जिन लोगों पर लाइसेंस रद्द होने की तलवार लटकी है. उसमें जिले के कई अन्य वीआईपी के नाम भी शामिल है जिला के अन्य बीआईपी चेहरों में जिला के पूर्व डीएम बालेश्वर दास तथा पूर्व डीडीसी ऋषिकेश शर्मा, दीपक कुमार का नाम शामिल है. बताया गया कि जिन लाइसेंस के रद्द करने की कार्रवाई शुरू की गई है. उसमें सबसे अधिक शेखपुरा थाना के 30, शेखोपुर सराय थाना के 7, अरीयरी, थाना के 5,  बरबीघा के 5 तथा कोरमा थाना के 3 मामले हैं.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*