शेखपुरा के एकरामा पंचायत के पुर्व सचिव गिरफ्तार, 22 लाख रुपये निकासी किये जाने का है मामले

गिरफ्तार पंचायत सचिव उमाकांत पासवान की फाइल फोटो

लाइव सिटीज, शेखपुरा(नीतीश कुमार) : जिले के चेवाड़ा प्रखण्ड अंतर्गत एकरामा पंचायत में सात निशचय योजना में बिना काम कराये ही 22  लाख रुपये निकासी किये जाने के मामले में करायी गयी प्राथमिकी दर्ज के कई माह बाद पंचायत सचिव को गिरफ्तार कर लिया गया है. चेवाड़ा प्रखंड के एकरामा पंचायत के पुर्व पंचायत सचिव उमां कान्त पासवान को शेखपुरा नवोदय विद्दालय के पास से गिरफ्तार  कर लिया गया गया है.

इसकी जानकारी  बीडीओ सुनील कुमार ने दिया.   उन्होंने बताया कि पंचायत के मुखिया पिंकू कुमार और सचिव उमाकान्त पासवान के खिलाफ सात निश्चय योजना के लगभग 22 लाख रुपये घोटाला करने का मामला दर्ज है. इस मामले में पंचायत सचिव पिछले कई माह से फरार चल रहे थे. पुर्व बीडीओ पुष्पलता कुमारी के द्वारा मुखिया पिन्कु  कुमार और पंचायत सचिव उमांकान्त पासवान के खिलाफ चेवाड़ा थाना में प्रार्थमिकी दर्ज कराया गया था.

जिसमें  बताया गया था की पंचायत में सात निश्चय योजना में बिना काम कराये ही लगभग 22 लाख की निकासी कर लिया  गया. इस  मामला में दोनों आरोपी फरार थे. रविवार  को पंचायत सचिव उमाकान्त पासवान को शेखपुरा नवोदय स्कूल के पास से गिरफ्तार कर लिया गया. वहीं इस बाबत जानकारी देते हुए चेवाड़ा  थानाध्यक्ष विनोद झा ने बताया कि प्रखंड के एकरामा पंचायत के पंचायत सचिव उमाकांत कुमार पर 2018  में  ही तत्कालीन बीडीओ  के द्वारा एक मामला दर्ज कराया गया था.

जिसमें उन पर यह आरोप लगाया गया था कि उनके द्वारा पंचायत में काम करने को लेकर सरकारी खजाना से लाखों रुपए की काम के पहले ही राशि की निकासी कर ली गई. लेकिन उनके द्वारा काम नहीं किया गया. उसके बाद वरीय अधिकारी द्वारा उन्हें कुछ दिन की मोहलत दी गई थी कि वो निकासी की गई सारी राशि सरकारी खजाने में जमा कर दें.

लेकिन पंचायत सचिव  के द्वारा ऐसा नहीं किया गया. जिसके बाद चेवाड़ा थाना में उन पर मामला दर्ज कराया गया था और तब से लेकर आज तक पंचायत सचिव फरार चल रहे थे. लेकिन गुप्त सूचना के आधार पर चेवाड़ा  थाना पुलिस ने पंचायत सचिव उमाकांत को गिरफ्तार कर लिया.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*