शेखपुरा : कोयला व पुरैना मवेशी अस्पताल में डॉ नहीं रहने से पशुपालकों की बढ़ी परेशानी

पूरे घाटकुसुम्भा में मात्र एक मवेसी हॉस्पिटल फिर भी पशुचिकित्सक नहीं

लाइव सिटीज, शेखपुरा(नीतीश कुमार) : जिले के पुरैना एवं कोयला प्रथम वर्गीय पशु चिकित्शालाय में डॉ नही रहने से पशुपालक की चिंताएं बढ़ने लगी है. भीषण गर्मी के कारण मवेशी भी गर्मी से अस्त व्यस्त हो गया है. जिसके कारण मवेशी बीमार पड़ना शुरू हो गया. सूत्रों ने बताया कि कोयला पशु चिकित्सालय व पुरैना पशु चिकित्सालय में वेटेरिनरी डॉ नही रहने के कारण पशुपालकों की परेशानी बढ़ गयी है.

कोयला व पुरैना मवेशी अस्पताल में डॉ का पद रिक्त रहने पर दो पशु चिकित्सापदाधिकारी की प्रतिनियुक्ति​ की गयी है.  परन्तु वे दोनों पशु चिकित्सा पदाधिकारी अब तक वहाँ का कार्य भार नही लिए हैं. जिसके कारण भीषण गर्मी में मवेशियों को बीमार रहने के कारण पशुपालकों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है.

इस बावत जिला पशुपालन पदाधिकारी डॉ अजय कुमार पाण्डेय ने बताया कि पुरैना मवेशी हॉस्पिटल के चिकित्सक डॉ पप्पू अमरनाथ​ का वेतनमान पर जमुई जिला के लक्ष्मीपुर में पदस्थापित हो जाने के कारण पुरैना व कोयला का हॉस्पिटल में पशु चिकित्सक का पद रिक्त हो गया था. जिसे ध्यान में रखते हुए कोयला पशु हॉस्पिटल में कैथमा हॉस्पिटल के टीभीओ डॉ संतोष कुमार एवं पुरैना में हथियावां के टिभियो डॉ संतोष कुमार की प्रतिनियुक्ति की गई है.​

परन्तु किसी कारण बस वे दोनों डॉ अभी पूरा प्रभार नही ले पाए हैं. जल्द ही डॉ को प्रभार दिल दिया जाएगा. यहां बताना जरूरी है कि घाटकुसुम्भा प्रखण्ड में कोयला प्रथम वर्गीय पशु चिकित्सालय ही एक मात्र हॉस्पिटल है. वह भी कोयला में भवन नही रहने के कारण घाटकुसुम्भा के किसान भवन की पुरानी बिल्डिंग में चलाया जा रहा है. इसी एक हॉस्पिटल पर पूरा घाटकुसुम्भा प्रखण्ड का मवेशी निर्भर है. जिसके बावजूद यहां वेटरनरी डॉ नही रहने के कारण अक्सर हॉस्पिटल बन्द रहता है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*