7 सूत्री मांगों को ले आंगनबाड़ी कर्मियों का धरना-प्रदर्शन, सरकार को चेतावनी

शिवहर/पुरनहियाः प्रखंड मुख्यालय परिसर मे बिहार प्रदेश आंगनबाड़ी कर्मचारी संघ के आह्वान पर प्रखंड इकाई ने अपनी सात सूत्री मांगों को लेकर धरना-प्रदर्शन किया. जिसका नेतृत्व संघ की प्रखंड अध्यक्ष सरिता कुमारी ने किया.  इस दौरान प्रखंड अध्यक्ष ने कहा कि वर्तमान में सरकार की गलत नीतियों के कारण आंगनबाड़ी कर्मियों का भविष्य सुखद प्रतीत नही हो पा रहा है. इसके लिए हमें प्रयत्नशील और संघर्षशील होना पड़ेगा, तभी हम अपने मांग को पूरी करा पाने में सफल हो पाएंगे.

  इस मौके पर सचिव बबन कुमारी ने कहा कि सरकार हमें आंशिक श्रमिक समझती है. जबकि समय आने पर हम दिन-रात एक कर कार्यों का निष्पादन करते हैं. अब वक्त आ गया है कि हम अपने आंदोलन को धारदार बनाकर दृढ़ इच्छा शक्ति के साथ अपनी मांग को मुकाम तक पहुंचाने के लिए एकजुट होकर संघर्ष करें. संघ की सदस्या रेणु कुमारी ने कहा कि हमारी मांगों पर विचार नही हुआ तो हम सभी कर्मी आगामी28 फरवरी को जिला मुख्यालय में धरना-प्रदर्शन करेंगे. बावजूद इसके अगर सरकार ने हमारी मांगों पर यथोचित निर्णय नही लिया तो आगामी 27 मार्च से हम प्रदेश के सभी केन्द्रों को बंद करने पर बाध्य हो जाएंगे.  anganwadi

 सरकारी कर्मचारी घोषित कर वेतनमान लागू हो, विकासशील राज्यों की भाँति बिहार मे भी केन्द्र सरकार के दुगुना मानदेय मिले, आंगनबाड़ी सेविकाओं से निर्धारित छह कार्य लेने, जनप्रतिनिधि द्वारा निरीक्षण के बहाने शोषण से मुक्ति सहित अपनी सात सूत्री मांगों के समर्थन मे आंगनबाड़ी कर्मियों ने बीडीओ को एक ज्ञापन सौंपा.  इस मौके पर शीला कुमारी, राधा कुमारी, संगीता कुमारी, कामिनी कुमारी, गीता कुमारी, शशि कुमारी, नीलू सिंह, किरण कुमारी व ऊषा कुमारी सहित सभी आंगनबाड़ी कर्मी मौजूद थे.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*