शिवहर: डीएम की बाढ़ पीड़ितों से अपील, राहत शिविर में जाएं और पका पकाया भोजन खाएं

शिवहर (रंजीत मिश्रा): पहली प्राथमिकता बाढ़ में घिरे लोगों को सुरक्षित जगह पर निकालना तथा उन्हें भरपेट भोजन कराना जिला प्रशासन का लक्ष्य है. इस प्राकृतिक आपदा में शिवहर जिला को हम सुरक्षित एवं संरक्षित रखना चाहते हैं. जिला पदाधिकारी ने बताया है कि जिले में राहत कैंप कई जगहों पर चलाए जा रहे हैं. जहां बाढ़ पीड़ितों को पका पकाया हुआ खाना खिलाया जा रहा है और उन्हें रहने एवं शौचालय, बिजली के साथ-साथ मवेशियों का चारा का भी प्रबंध किया गया है.

जिला पदाधिकारी ने में पिपराही प्रखंड क्षेत्र के मेसौढा में चार जगह कैंप चलाया जा रहा है. पिपराढी कन्या विद्यालय, हरिजन बैठका वार्ड नंबर 13, मेसौढा मठ मिडिल स्कूल, तथा रतनपुर मिडिल स्कूल बालक में राहत शिविर एवं पका पकाया खाना की व्यवस्था की गई है. डीएम ने लोगों से अपील किया है जी वे राहत शिविर में जाए और जिला प्रशासन के द्वारा कैंप में पका पकाया भोजन करें तथा अपने परिवार को सुरक्षित रखें. साथ ही जिला के सभी कैंपों में राहत व्यवस्था की जा रही है. जिसका लाभ लेने का अपील डीएम के द्वारा किया गया है.

डीएम ने यह भी बताया है कि तेजी से पानी का कमी होना शुरू हो गया है, फिर भी पिपराढी से शिवहर आते आते तथा शिवहर से तरियानी क्षेत्र में पानी जाते जाते पानी का फैलाव हो गया है. डीएम ने आगे कहा कि पानी में कमी हो रही है लोग. धर्य रखें ! जिला प्रशासन आपके साथ है. जबकि मेंसौढा पंचायत के मुखिया रीना देवी के प्रतिनिधि मुकुल कुमार सिंह ने बताया है कि मेरे पंचायत के तरफ से जिला पदाधिकारी निश्चिंत रहें यहां हर कैंप पर सुबह शाम तकरीबन 700 से अधिक बाढ़ प्रभावित भोजन कर रहे हैं. तथा यहां की जनता एकदम निश्चिंत है और जिला प्रशासन पर बाढ़ से हुए नुकसान के राहत के लिए इंतजार कर रही है.

जिला पदाधिकारी ने यह भी स्पष्ट किया है कि शीघ्र ही अंचलाधिकारी एवं कर्मियों को लगाकर बाढ़ से हुए क्षति का जायजा लिया जाएगा और शीघ्र ही राहत सामग्री वितरित की जाएगी.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*