एक नजारा ऐसा भी: सरकारी संपत्ति की रक्षा नहीं करना जानते बस के ड्राइवर, फंसा दिया दलदल में

शिवहर (रंजीत मिश्रा): सरकारी संपत्ति की रक्षा करना नहीं जानते हैं सरकारी बस के ड्राइवर. स्थानीय जीरो माईल चौक शिवहर में एक नजारा देखने को मिला है की सरकारी बस किस तरह बरसात के पानी के गड्ढों में फंसा पड़ा है, जो काफी प्रयास करने के बाद भी निकल नहीं रहा है. हालांकि जीरो माइल चौक पर बस स्टैंड नहीं होने के कारण फिर भी सरकारी बस के ड्राइवरों के द्वारा मनमानी तरीके से यत्र तत्र खड़े कर सड़क जाम तो करते ही है. उल्टे सरकारी संपत्तियों को नुकसान भी करते हैं.

सरकारी बस के ड्राइवर को फोटो में बस को धंसे हुए देखने पर ऐसा लगता है कि बस के ड्राइवर के द्वारा जानबूझकर पानी के नीचे दलदल मिट्टी में खड़ा करने से बस का आगे का हिस्सा धंस गया है, जो क्रेन से ही निकल सकता है. ऐसे में सरकारी संपत्ति का नुकसान हुआ ही है दूसरी तरफ यह बस समय से मुजफ्फरपुर नहीं जा सका. जिसका चलते सरकार के राजस्व का नुकसान हो रहा है.

जीरो माइल चौक के प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया है कि सरकारी बस के ड्राइवरों के द्वारा बस लगाने को लेकर हमेशा मनमानी किया जाता रहा है. जिस कारण उसे यह भी पता नहीं था कि वहां पर दो लेन की सड़क भी बन रही है एवं दलदल युक्त पानी के गड्ढे में अगला हिस्सा गिरा दिया. जिस कारण से समय पर गंतव्य जगह तक बस नहीं जा सकी. इसे निकालने के लिए ट्रेन का ही उपयोग लाया जा सकता है.

जरूरत है कि समय का उपयोग करते हुए सुरक्षित जगह पर सरकारी संपत्तियों को रखें और उसे नुकसान होने से बचाया जाए.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*