बैंकिंग व्यवस्था में नहीं हो सका सुधार, दो दर्जन से अधिक गांवों में उपलब्ध नहीं है सुविधा

अनुमंडल पदाधिकारी आफाक अहमद ने यह सम्मान जिले वासियों के नाम किया

शिवहर: वर्ष 18 भी समाप्ति हो गया. लेकिल जिले में बैंकिग क्षेत्र में कोई खास सुधार नही हो सका. नये वर्ष में बैंकिग क्षेत्र में सुधार की संभावना है. बैंक शाखा की कमी के कारण ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को बैंकों से जुड़े कार्यो के लिए अभी भी पांच से दस किलो मीटर दूर जिला मुख्यालय का चक्कड़ लगाना पड़ता है.

जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में बैंकिग सुविधाओ की उपेक्षा का आलम यह है कि भारतीय रिर्जव के निर्देश के बावजूद ग्रामीण क्षेत्रों में बैंकिग सुविधाओं का विस्तार बैंको द्वारा नही किया जा रहा है. वित्तीय समाबेशन के तहत मार्च 2013 तक ही जिले के पांच हजार से अधिक की आबादी वाले चिन्हित जिले के सभी 14 गांवो में विभिन्न बैंको द्वारा बैंक शाखा स्थापित करना था.

साथ ही दो हजार से उपर की आबादी वाले 20 गांवों में बैंकिग सुविधा उपलब्ध करा दिया जाना था. लेकिन वर्ष 2018 का मार्च माह भी वीत गया है, लेकिन आज तक यह सुबिधा सभी गांवों में नही उपलब्ध कराया गया. ग्रामीण क्षेत्रो की उपेक्षा में सभी राष्ट्रीयकृत बैंक एक समान कार्य कर रही है. कुछ बैंक द्वारा यह कह कर खानापूर्ति की जा रही है कि संवंधित गांवों में मोवाइल बैंकिग भान से बैंकिग सुविधा उपलब्ध कराया जा रहा है.

वहीं कुछ बैंक सेवा केन्द्र स्थापित किये जाने की बात कहकर खाना पूर्ति कर रही है. जबकि भारतीय रिर्जव बैंक का स्पष्ट निर्देश है कि पांच हजार से अधिक की आवादी वाले गांवों में बैंक शाखा स्थापित करना है. मालुम हो कि पांच हजार की आबादी वाले जिले के तरियानी प्रखंड़ के खुरपटी, पिपराही प्रखंड़ तथा मिनापुर- बलहा इसके अलावा बराही मोहन, खैरा पहाड़ी तथा हिरौता दुम्मा, चमनपुर बखार चंडिहा में आज तक राष्ट्रीय कृत बैंक की शाखा स्थापित नहीं है.  बराही मोहन, खैरा पहाड़ी तथा हिरौता दुम्मा में बैंक ऑंफ इण्डिया द्वारा वही चमनपुर में स्टेट बैंक द्वारा तथा बखार चंडिहा में बैंक ऑंफ बड़ौदा द्वारा शाखा खोला जाना है.

लेकिन इन बैकों द्वारा आजतक अपनी शाखा नहीं खोला गया है. जवकी 15 सौ से उपर की आबादी बाले शिवहर प्रखंड के विशुनपुर किशुनदेव,खैरवादर्प,शाहपुर, चिकनौटा, कोठिया तथा सुन्दरपुर, पुरनहिया प्रखंड के आशोपुर, बेदौलबाज तथा बेदौल आजम पिपराही प्रखंड के इनरवाखुर्द  और पिपराही, डुमरी कटसरी प्रखंड के गाजीपुर एवं तरियानी प्रखंड के निमाही, रेवासी, बेलाहीदुल्लह, कोलसो कला, जगदीशपुर, रामपुरखास एवं सुल्तानपुर गावों में बैकिग सुविधा उपलब्ध कराया जाना है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*