‘जादू की कला को बचाने की जरूरत’

शिवहर : स्थानीय गांधीनगर भवन में 1 फरवरी को जिला प्रशासन की अनुमति से महान जादूगर शंकर सम्राट द्वारा जादू दिखाने की तैयारी पूरी कर ली गई है. जादूगर संकट सम्राट ने बताया कि जादू एक लुप्त कला है. यह भारतवर्ष से उत्पन्न 64 कलाओं में सर्वश्रेष्ठ कला है, जो विदेशों में फल फूल रहा है. इस लुप्त होती कला की धरोहर को बचाने की जरूरत है.
जादूगर शंकर सम्राट ने बताया कि अनुशासनिक, प्रशासनिक, राजनैतिक, सामाजिक, व्यवसायिक के लोगों के सहयोग के कारण ही जादूगर शंकर सम्राट बिहार ही नहीं देश के लगभग आधा दर्जन राज्यों में तकरीबन 12 वर्षों से कला दिखाते आ रहे हैं. जादू विज्ञान और जोग पर आधारित कला कला है.
A1
1 फरवरी 2017 को संध्या 6:00 बजे जिला पदाधिकारी राजकुमार, पुलिस अधीक्षक प्रकाश नाथ मिश्रा, अनुमंडल पदाधिकारी लालबाबू सिंह, एसडीपीओ प्रीतीश कुमार सहित कई वरीय अधिकारी जादू के रहस्मई जादूगर शंकर सम्राट का शो का विधिवत उद्घाटन करेंगे.
जादूगर शंकर सम्राट ने बताया कि अमेरिका के लाइव ज्ट पर आधार जादूगर का शोक के रूप में बाइक पर ट्रैफिक नियमों का पालन करते हुए जादू के कलाकार सात काली पट्टी से आंखों पर बांधकर शिवहर शहर में बाइक चलाएगी इसके लिए जादूगर शंकर सम्राट ने बताया कि जिला प्रशासन से आदेश प्राप्त कर ही यह शो  को दिखलाया जाएगा.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*