शत्रु का ट्वीट बम : कहा- मेरे वरिष्ठ सहयोगी फ्रस्ट्रेट हो गए हैं

लाइव सिटीज डेस्क : बिहार बीजेपी में घमासान जारी है. भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी और पटना साहेब से सांसद शत्रुघ्न सिन्हा के बीच विवाद बढ़ता ही जा रहा है. लालू प्रसाद के समर्थन में आये शत्रुघ्न सिन्हा को सुशील कुमार मोदी ने गद्दार करार देते हुए पार्टी से निकाले जाने तक की बात कही थी. जिससे आहत शत्रुघ्न सिन्हा ने आज सुबह से लगातार कई ट्वीट किये हैं. उनके इस ट्वीट के बाद पार्टी के अंदर कलह और बढ़ जाने की संभावना जताई जा रही है. 

शत्रु ने अपने ट्वीट में लिखा है कि बिहार के एक वरिष्ठ राजनीतिक सहयोगी और नेता द्वारा मेरे खिलाफ असंसदीय बयान दिये जाने से मेरे मित्र, मेरे चाहने वाले और राजनीतिक नेता काफी आहत हैं. मेरे चाहने वालों ने इसे मामले को लेकर मैसेज भेजा हैं.

 

शत्रुघ्न सिन्हा ने लिखा है कि एक वरिष्ठ साथी जो लंबे समय से राजनीति में साथ रहे हैं, उनसे इस कदर उम्मीद नहीं की जा सकती है कि वे मर्यादा की सारी सीमाओं को तोड़ दें. शत्रु ने इशारों-इशारों में सुशील मोदी पर हमला बोलते हुए लिखा है कि आपकी अपनी निराशा, राजनीति में गुम हो रही आपकी अपनी शख्सियत, आपको परेशान किये हुए है. लेकिन, ऐसा बयान देने के लिए यह कोई जस्टिफिकेशन नहीं है कि आप अपनी परेशानी की आड़ में दूसरों पर कीचड़ उछाले.

 शत्रुघ्न सिन्हा ने अपने अगले ट्वीट में लिखा है कि.. और मैं कोई बदनाम चेहरा नहीं हूं. राजनीति में बहुत सारे लोगों ने मेरे वसूल, सिद्धांत और मेरे धैर्य की तारीफ की है, और जो लोग मेरी आलोचना कर रहे हैं, उन पर ही लोगों ने पार्टी को खत्म करने और बदनाम करने के लिए सवाल खड़े किये थे. लोगों ने ऐसे शख्स पर ही उंगली उठाई थी.

 शत्रु ने अपने अगले ट्वीट में खुद को पार्टी से निकाले जाने को लेकर हमला बोला है. उन्होंने लिखा है कि मुझे आज पार्टी से निकालने की बात की जा रही है, मैं पूछता हूं किस हैसियत से मुझे पार्टी से निकालने की बात कही जा रही है. शत्रु ने भोला बाबू के बयान का हवाला देते हुए ट्वीट किया है कि भोला बाबू ने सही सवाल उठाया है कि आखिर किस हैसियत से शत्रुघ्न सिन्हा को पार्टी से निकाले जाने की बात की जा रही है.

 बता दें कि हाल ही में शत्रुघ्न सिन्हा ने भाजपा नेता सुशील मोदी का नाम लेते हुए उन्हें नकारात्मक राजनीति नहीं करने की सलाह दी थी. सुशील कुमार मोदी लगातार  लालू प्रसाद पर बेनामी सम्पत्ति को लेकर हमला बोलते रहे हैं. शत्रु के इस ट्वीट के बाद सुशील मोदी गुस्से में आ गए थे और उन्होंने शॉटगन को भाजपा का शत्रु बताते हुए कहा था कि जिस लालू प्रसाद की बेनामी सम्पत्ति के बचाव में स्वयं नीतीश कुमार नहीं उतरे वहां उनके बचाव में भाजपा के शत्रु उतर आये. इसके बाद से विवाद लगातार बढ़ता जा रह है.

 

 यह भी पढ़ें-  शत्रुघ्न को मिला भोला सिंह का साथ, पूछा निकालने की बात करने वाले सुशील मोदी कौन? 

ट्विटर वार में बैकफुट पर सुमो, बोले  शत्रु कोई भी हो सकता है

लालू के बचाव में आगे आये शत्रुघ्‍न सिन्‍हा, सुमो बोले – गद्दारों को घर से निकालो

सुमो- शत्रु वार में कूदे तेजस्वी : कहा- जो आपको शत्रु कहता है वो खुद सुशील कैसे हुआ