उन्माद फैलाने वाले पोस्ट पर लगेगी लगाम, फेसबुक ने उठाये सख्त कदम

लाइव सिटीज डेस्क (गणेश कुमार रंजन) : देश में बढ़ रहे आतंकवाद से दूषित हो रहे सोशल मीडिया पर डैमेज कंट्रोल के लिए अब कड़े कदम उठाने की तैयारी की जा रही है. दुनिया की नंबर वन सोशल मीडिया साईट फेसबुक ने इसका उपाय खोज निकाला है. अब दुनिया में आतंक फैलाने वाले, व जाति-धर्म के नाम पर भड़काऊ पोस्ट करने वालों पर नकेल कसने के लिए फेसबुक ने सख्त कदम उठाये हैं. 

ऐसे पोस्ट्स के प्रसार का मुकाबला करने के लिए, फेसबुक अब अपने आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस का प्रयोग करेगा. साथ ही ह्यूमन मॉडरेटर की सहायता से इन पोस्टो को डिलीट कराने के प्रयासों को मजबूत करेगा और अपने सोशल मीडिया और मैसेजिंग ऐप में डेटा शेयरिंग प्रणाली विकसित करेगा.

आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस के इस्तेमाल से फेसबुक पर डाली गई सामग्री को पहले ही स्कैन कर यह पता लगा लिया जाएगा कि यह पोस्ट उग्रवाद, उन्माद को बढ़ावा दे रहा है तो ऐसे पोस्ट को अप्प्रूव ही नहीं करेगा. साथ ही फेक फेसबुक अकाउंट व पेज क्रिएट कर इस तरह के पोस्ट्स से उन्माद फैलाने वाले को पहले ही रोकने में भी सफल हो सकेगा. 

फेसबुक ने इस साल की शुरुआत में कहा था कि वह अपनी कम्युनिटी ऑपरेशन टीम को बढ़ाएगा, जो  बदमाशी,  घृणित भाषण और आतंकवाद को बढ़ावा देने जैसे पोस्ट की समीक्षा करेगा. फेसबुक ने एक सौ पचास कर्मचारियों को ख़ास जिम्मेदारी के साथ काउंटर टेररिज्म जैसे मुद्दे पर लगाया है.

आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस का पहले भी प्रयोग चाइल्ड प्रोनोग्राफी की वेबसाइट, यूटूयूब और फेसबुक पर ब्लाक करने में किया जा चुका है. फेसबुक और दूसरी इन्टरनेट कंपनिया आतंकवादी पोस्ट कि पहचान करने और उसे ब्लाक कराने में काफी मुश्किलों का सामना कर रही है वही सरकार भी इन पर ऐसे गतिविधियों पर लगाम लगाने के लिए दबाव बना रही है. हाल में आतंकवादी वारदातों में  बढ़ोतरी हुई है  जिससे इन कंपनियो पर लगातार सरकार की  ओर दबाव बढ़ी है.

एक्सट्रीमिस्ट पोस्ट को हटाने के प्रयास में इस्तेमाल की गई एआई तकनीकों में इमेज का मिलान होता है, जो तस्वीरों और वीडियो को “ज्ञात” आतंकवाद की छवियों या वीडियो से फेसबुक पर मिलाता है. आमतौर पर इसका मतलब यह है कि फेसबुक ने पहले ही उस सामग्री को हटा दिया था, या तो यह ऐसी छवियों को डेटाबेस में डिलीट कर दिया हो.

यह भी पढ़ें- फेसबुक से लेकर Gmail तक, मौत के बाद क्या होता है सोशल अकाउंट्स का
फेसबुक के बारें में कुछ रोचक जानकारी जिनसे रखे खुद को अपडेट