पढ़िए, महिलाएं क्यों चला रही हैं #BoycottAmazon हैशटैग

amazon

लाइव सिटीज डेस्क : अमेज़न इंडिया की वेबसाइट पर बेचे जा रहे एक ऐशट्रे को लेकर सोशल मीडिया में मचे बवाल के बाद कंपनी ने ऐशट्रे को अपनी वेबसाइट से हटा लिया है. सोशल मीडिया में लोगों ने इस ऐशट्रे को अश्लील बताया और इसे महिलाओं का अपमान करार दिया. इस ऐशट्रे को लेकर कई सारे लोगों ने अपना गुस्सा ज़ाहिर किया. ट्विटर पर लोगों ने अमेज़न को आड़े हाथों लिया.


बता दें कि अमेज़न इंडिया पर ‘ट्राईपोलर क्रिएटिव ऐश-ट्रे’ नाम का एक प्रोडक्ट बेचा जा रहा था. इस प्रोडक्ट का डिज़ाइन ऐसा था कि इसमें एक महिला को आपत्तिजनक स्थिति में दिखाया गया था. इस प्रोडक्ट के सामने आते ही यह विवादों में घिर गया.

प्रोडक्ट का नाम है ‘ट्राईपोलर क्रिएटिव टेबलटॉप ऐश-ट्रे’. कंपनी के मुताबिक़, यह एक डेकोरेशन आइटम है यानी इसे सजावट के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है. ऐश-ट्रे में एक नग्न महिला को टब के ऊपर लेटा हुआ दिखाया गया है.

amazon

अमेज़न के पेज पर जाकर कई महिलाओं ने इस उत्पाद के रिव्यू लिखे हैं. इनमें ज्यादातर रिव्यू नाराज़गी भरे हैं. महिलाओं का कहना है कि अमेज़न का ऐसे उत्पाद बेचना घिनौना है और इससे समाज में औरत जाति से नफ़रत करने वालों को रोमांच मिलेगा.

फेसबुक पर रेनू जैन लिखती हैं- अपना प्रॉडक्ट बेचने के लिये कोई इतना गिर सकता है ?
मैं amazon का बहिष्कार करती हूँ कि जबतक ये अपने site से ये प्रॉडक्ट नहीँ हटा लेता .
many many thanks
तो श्वेता यादव जिन्होंने इसपर ध्यान दिया …..

फ़ेसबुक पर रीवा सिंह  ने अमेज़न के नाम एक ‘खुला खत’ लिखा है. रीवा उसमें लिखती हैं, “डियर अमेज़न, मुझे उम्मीद है कि आपकी टीम इस उत्पाद को एक मॉडल के तौर और आपके वरिष्ठ अफ़सर इसे अपनी साइट पर उतारते वक़्त होश में रहे होंगे. लेकिन आपकी रचनात्मकता ने हमारे पास कोई विकल्प नहीं छोड़ा है.”

 

फ़ेसबुक यूज़र शिल्पी ने लिखा है, “लो भई! अब औरत के गुप्तांग में सिगरेट भी बुझाई जा सकती है. अभी तक रॉड, तेज़ाब, मोमबत्ती और न जाने क्या-क्या डाला गया. लेकिन यह नई सुविधा उपलब्ध करवाई है अमेज़न ने.”

फ़ेसबुक यूज़र प्रीती कुसुम के मुताबिक़ अमेज़न ने इस उत्पाद को अपने ‘क्रिएटिव’ सेक्शन में भी जगह दी है. उन्होंने अपना गुस्सा ज़ाहिर करते हुए फ़ेसबुक पर लिखा, “ये क्रिएटिविटी है. #Amazon की साइट पर बिक रहा यह ऐश-ट्रे, इस देश की बलात्कारी मानसिकता का जीता जागता उदाहरण है.”

बता दें इससे पहले अमेजन कई बार विवादों में रह चुकी है. इसी साल जनवरी के महीने में अमेजन की कनाडा वेबसाइट में एक डोरमैट की वजह से काफी विवाद हुआ जिस पर तिरंगा झंडा बना हुआ था. इस पर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के विरोध जताने पर इसे वेबसाइट से हटा दिया गया. इससे पहले पिछले साल जून के महीने में अमेजन ने हिंदू देवी-देवताओं की तस्वीर वाले डोरमैट भी बेचे थे जिस पर भी विवाद हुआ था.

यह भी पढ़ें – ट्रेंड हुआ #IStandWithNDTV : रवीश का तंज – ये लीजिये हम डर से थर-थर कांप रहे हैं