अनोखी बारात : गीता ने आखिर पा लिया दीपक को

लाइव सिटीज डेस्क/बेतिया : वो कहते हैं न कि जोड़ियां धरती पर नहीं, आसमान से बनकर आती हैं. यह कहावत एक बार फिर सच साबित हुई. बैरिया थाना अंतर्गत तिलंगही मठ पर लगभग तीन सप्ताह पहले बारात लेकर आयी लड़की का मामला आज पटाक्षेप हो गया. लड़के ने लड़की से शादी के लिए हां कर दी और समाजिक दबाव में आकर उसने लड़की को आखिर अपना लिया. इस मामले के बाद आखिर एक बार फिर साबित हो गया कि समाज क्यों आवश्यक होता है.

जब लड़के दीपक ने लड़की गीता से शादी के वादे कर उसके साथ सात जन्मों के रिश्ते निभाने की बात कर लड़का दीपक मुकर गया. तब समाज ने अपना फर्ज निभाया और इस मामले की कमान अपने हाथों में ली. समाज ने वह कर दिखाया जो होना चाहिए था. जी हां, समाज के दबाव में आकर आखिर लड़के को झुकना ही पड़ा और 16 नवंबर से गायब लड़का आखिर अपने घर आया और 6 दिसंबर को शादी की तारीख मुकर्रर हुई. शादी की जगह लड़के के घर से कुछ दूर जहां इसके पूर्व में लड़की वाले आकर रुके थे, उस तिलंगही मठ पर तय की गयी.

fotorcreated-1

 

लड़की गीता के परिजन पूरी तैयारी के साथ वहां पहुंचे. लड़का भी पूरी तैयारी के साथ रथ पर सवार हुआ. धूमधाम से बारात निकली. इस अनोखी बारात के मामले में पूरा समाज लड़की की हिम्मत की प्रशंसा कर रहा है. शादी के गीत-संगीत से पूरा माहौल गूंज रहा है.

क्या है मामला

anokhi-barat-1

बता दें कि हरसिद्धि की लड़की गीता और बैरिया के लड़के दीपक के बीच में पूर्व से ही प्रेम प्रसंग चल रहा था. दोनों के बीच शादी की बात तय हो गयी थी. लेकिन, तय तिथि से पहले लड़का घर से गायब हो गया. तब लड़की वाले बारात लेकर वहां पहुंच गयी. लड़की को पूरे समाज और गांव का साथ मिला. कई दिनों तक लड़का घर नहीं पहुंचा तो इस अनोखी बारात को ठहरने का पूरा इंतजाम गांव वालों ने किया. वहीं लड़की वालों ने थाने की भी मदद ली. बारात लौट गयी, लेकिन गीता अपने होनेवाले ससुराल में ही रुक गयी. लगभग तीन समाप्त के बाद मामला सलटा है. आज रात शादी होनी है. इसके लिए गांव वालों ने सारी तैयारी कर ली है. पूरे गांव में खुशी का माहौल देखा जा रहा है. हर कोई लड़की की हिम्मत की प्रशंसा कर रही है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*