नोटबंदी के 30 दिन : जानें फायदे और नुकसान

लाइवसिटीज डेस्क : 500 और हजार का नोट बंद हुए एक महीना हो चुका है. लेकिन नोटबंदी से हो रही परेशानियां अभी कम नहीं हुई है. देश में कैश की दिक्कत को ले हर एटीएम के पास जनता लाइन लगाए दिख जाएंगे.  लेकिन नोटबंदी से अगर नुकसान हुए हैं तो देश को फायदा भी मिला है. पीएम मोदी ने दिक्कतें दूर करने के लिए 50 दिन का वक्त मांगा था. अभी 20 दिन बाकी हैं.

notebandi



लेकिन नोटबंदी के तीस दिनों में क्या बदला, देश को क्या फायदा और क्या नुकसान हुआ है, यहां समझिए-

फायदा नुकसान  
कैशलेस ट्रांजेक्शन की तरफ देश बढ़ा एक महीने से बैंक और एटीएम की लाइन में देश खड़ा है
डिजिटल इंडिया पर हम आगे बढ़े हैं. कैश के लिए परेशान है जनता.
नोटबंदी के बाद भ्रष्टाचारियों पर शिकंजा कसा. लाइन में लगने और पैसे ना होने के सदमे से कई लोगों मौत हो चुकी है.

 

जाली नोट एक झटके में खत्म हो गए. अचानक नकदी की भारी कमी हुई तो व्यापार की भी मुश्किलें बढ़ गईं.

 

तिजोरियों में भरा पैसा बैंक में आया. हजारों लोगों का रोजगार छिन गया.
बैंक में जमा पैसे से बाजार में नकदी बढ़ेगी. छोटे धंधे ठप हो गए.
अचानक 12 लाख करोड़ जमा होने से बैंक मजबूत हुए हैं. गांव में किसान परेशान हैं, खेती पर असर पड़ रहा है.
कैश की कमी है तो फिजूलखर्ची भी कम हुई है. देश की विकास दर भी घटने का अनुमान जताया गया है.

विदेशियों को कैश की दिक्कत हो रही, पर्यटन में नुकसान हुआ है.

 

यह भी पढ़ें- खुशखबरी : अब बी डी कॉलेज में होगा ऑनलाइन नामांकन
‘हिन्दू विरोधी पीएम मोदी, नोटबंदी सरकार के अंत की शुरुआत’