बिहार बाढ़ में डूबने से 15 लोगों की मौत, 14 जिलों के 112 प्रखंड हैं प्रभावित

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: बिहार में इस वक़्त तबाही का आलम है. एक तरफ बाढ़ तो दूसरी तरफ कोरोना महामारी ने लोगों का जीना बेहाल कर दिया है. राज्य सरकार ने अगले कुछ दिनों में भारी वर्षा की आशंका को देखते हुए अलर्ट जारी किया है. बिहार में 14 जिलों के 112 प्रखंडों की 49 लाख की आबादी बाढ़ से ग्रसित है. रविवार को बाढ़ की पानी में डूबने से 15 की मौत हो गई. बांध टूटने से कई इलाकों में लोगों को भारी मुसीबतों का सामना करना पड़ रहा है.

बिहार की लगभग नदियों का जलस्तर बढ़ता जा रहा है, जिससे लाखों की आबादी इस बाढ़ में डूब चुकी है. कई लोगों ने नाव का सहारा लेना शुरू कर दिया है तो वहीं कईयों ने पलायन का रास्ता अपना लिया है. कई ऐसे हैं जो सड़क किनारे और एनएच में गुजर बसर करने को विवश हैं.



इधर, रविवार को बाढ़ के पानी में डूबने से अबतक 15 की मौत हो गई. मरने वालों में सहरसा के 4, गोपालगंज, पश्चिम चंपारण और शिवहर के दो-दो लोग शामिल हैं. इसके अलावा पूर्णिया, कटिहार, छपरा, मधुबनी और पूर्वी चंपारण जिले में एक-एक लोगों की जान गई.