बंद के दौरान जहां-तहां खड़ी रही 16 ट्रेनें, पैसेंजर्स को हुई काफी परेशानी

पटना : बिहार बंद के दौरान आरजेडी समर्थकों ने सिर्फ रोड के रूट को ही डिस्टर्ब नहीं किया, बल्कि इन लोगों ने रेल रूट को भी अपना शिकार बनाया. जगह—जगह रेलवे ट्रैक पर प्रदर्शन किया. ट्रैक पर ही आगजनी की. जिस कारण अलग—अलग रूट्स पर ट्रेनों की स्पीड पर ब्रेक लग गया. ईस्ट सेंट्रल रेलवे के तीन डिवीजन के तहत अलग—अलग जगहों पर कुल 16 ट्रेनों को रोका गया. जिनमें सुपरफास्ट, एक्सप्रेस और पैसेंजर ट्रेनें शामिल थीं. सबसे अधिक ट्रेनें दानापुर रेल डिवीजन के तहत रोकी गई.
सबसे अधिक समय तक आरजेडी समर्थकों ने भभूआ रोड से पटना आ रही 13244 डाउन इंटरसिटी एक्सप्रेस को रोका. ये ट्रेन सुबह 9 बजे से दोपहर एक बजकर 4 मिनट तक परसा बाजार स्टेशन पर खड़ी रही. राजगीर से नई दिल्ली जा रही 12391 अप श्रमजीवी एक्सप्रेस को आधे घंटे से अधिक देरी तक पावापुरी स्टेशन पर रोका गया. गुवहाटी से आनंद विहार टर्मिनल जा रही 12501 अप नॉ​र्थ ईस्ट एक्सप्रेस को पहलेजा घाट और पाटलिपुत्र स्टेशन के बीच करीब डेढ़ घंटे तक रोका गया. इसी तरह पाटलिपुत्र स्टेशन पर 13206 जनहित एक्सप्रेस करीब सवा घंटे तक खड़ी रही. इसी तरह आरजेडी समर्थकों ने पोठही, जहानाबाद, तरेगना, पटना और नवादा व वारसलीगगंज के बीच पैसेंजर ट्रेनों को डिस्टर्ब किया गया.

— लपेटे में आई बिहार संप​र्क क्रांति
बंद समर्थकों ने समस्तीपुर रेल डिवीजन के तहत अलग—अलग जगहों पर कुल 5 ट्रेनों को रोका. इनके लपेटे में बिहार संपर्क क्रांति एक्सप्रेस भी आ गई. इस सुपरफास्ट ट्रेन को दरभंगा स्टेशन पर 10 मिनट से अधिक देरी तक रोका गया. पिपराहा में अमरनाथ एक्स्प्रेस और कांटी में सप्तक्रांति एक्सप्रेस को एक—एक घंटे तक रोका गया. घोड़ासहन और सीतामढ़ी स्टेशनों पर पैसेंजर ट्रेनों को डिस्टर्ब किया गया.
— वैशाली एक्सप्रेस को भी रोका
सोनपुर रेल डिवीजन के तहत भी आरजेडी समर्थकों ने ट्रेनों के परिचालन को ​रोका. मुजफ्फरपुर से नई दिल्ली जा रही ​वैशाली एक्सप्रेस को रामदयालू और गोंदिया एक्सप्रेस को मुजफ्फरपुर स्टेशन पर रोका गया. ट्रेनों को जहां—तहां रोके जाने से ट्रैवल कर रहे पैसेंजर्स को काफी परेशानी हुई.