गैंग्स ऑफ वासेपुर : डॉन फहीम खान के दुश्मन पप्पू पाचक के सीने में उतार दी गोली

लाइव सिटीज डेस्क : एक बार फिर वासेपुर  में खून खराबा हुआ है. वासेपुर का कुख्यात डॉन फहीम खान के विरोधी पप्पू पाचक उर्फ पप्पू खान  को रविवार देर रात लगभग सवा बारह बजे झरिया पुल पर बाइक सवार ने गोली मार दी. गोली पप्पू पाचक के सीने में लगी है. उसे गंभीर हालत में पहले पाटलि पुत्र नर्सिंग होम, फिर सेंट्रल अस्पताल ले जाया गया, जहां से रेफर किया गया मगर परिजन खतरा जान धनबाद के ही जालान अस्पताल ले गए. वहां भर्ती नहीं होने पर दुर्गापुर मिशन अस्पताल ले गए हैं. 

पप्पू पाचक अपने आठ साल के बेटे और भतीजे के साथ कार से ईद की खरीदारी कर लौट रहा था.  इसी दौरान हमलवार ने झरिया पुल पर दो गोली मारी. एक गोली सीने में और दूसरी कंधे में लगी. पप्पू पाचक को डॉन फहीम खान का विरोधी माना जाता है. देर रात जालान अस्पताल में पाचक के दर्जनों समर्थक पहुंच गए. फिलहाल हमलावर के बारे में कोई जानकारी नहीं मिली है. पुलिस लोगों से पूछताछ कर रही है. 

 

कौन है फहीम खान

फहीम खान वासेपुर का कुख्यात डॉन है. इसे यहां का सरगना कहा जाता है. इस पर सैकड़ों हत्याओं का आरोप है. कोयला खदानों में वासेपुर के कई मजदूर काम करते हैं, जिसपर फहीम खान राज करता है.  फहीम खान की अदावत यहां के शक्तिशाली माने जाने वाले घराने सिंह मेंशन और रघुकुल से भी है. फहीम खान पर कांट्रैक्ट किलिंग के भी आरोप हैं.
फहीम फिलहाल मर्डर के मामले में उम्रकैद की सजा काट रहा है. फहीम पर लूट, हत्या, अपहरण, बमबाजी, रंगदारी समेत कई अन्य मामले धनबाद के विभिन्न थानों में दर्ज हैं.

डॉन फहीम खान (FILE PHOTO)

 

फहीम खान का बेटा भी धनबाद के एक रेलवे ठेकेदार की हत्या मामले में जेल में बंद है. फहीम खान पर वासेपुर के एक कपड़ा व्यवसायी मोहम्मद वाहिद आलम उर्फ जावेद की हत्या का भी आरोप है.  मारा गया मो. वाहिद धनबाद के शातिर अपराधी साबिद आलम का भाई था. साबिद और फहीम के बीच वर्चस्व को लेकर गैंगवार होता रहता था.  गैंगवार में मो.

वाहिद और साबिद आलम गुट पर मो. फहीम की मां और उसकी मौसी की हत्या का आरोप था.  वाहिद ने फहीम पर भी अटैक बोला था. गैंग्स ऑफ वासेपुर के एक बम कांड में वाहिद का हाथ उड़ चुका था.  बॉलीवुड फिल्म गैंग्स ऑफ वासेपुर पार्ट-2 में फहीम खान का किरदार फैसल खान के रूप में दिखाया गया है.

यह भी पढ़ें-  ईद की मुख्य नमाज में हिस्सा लेने गांधी मैदान पहुंचे सीएम नीतीश
22 साल का है तीसरा शूटर सागर, नीरज पर चलायी थी पहली व आखिरी गोली, यूपी से गिरफ्तार