भागलपुर में मिनटों में 300 घर जलकर हो गए राख, बच्चों की गलती से छिन गया आशियाना

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : भागलपुर (Bhagalpur) में मिनटों में 300 घर जलकर राख हो गए. अभी लोग कुछ समझ पाते एक के बाद एक करके सभी 300 घर धू-धूकर जल उठा. जिधर देखो उधर चिखे सुनाई पड़ने लगी. जिसे जो बुझा रहा था उसी के अपना आशियाना बचाने में जुट गया. लेकिन किसी का एक ना चली. बस थोड़ी ही देर में करीब 300 परिवार सड़क पर आ गया. चारो ओर रोते विलखते लोगों का आवाज सुनायी देने लगी, और यह सब हुआ महज कुछ ही मिनटों में.

दरअसल भागलपुर के नारायणपुर (Narayanpur) में आग की एक चिंगारी ने 300 परिवारों को बर्बाद कर दिया. कसमाबाद दियारा के वार्ड संख्या 10 के एक घर में कुछ बच्चों ने चूल्हा जलाया था. इस दौरान एक चिंगारी से फूस की झोपड़ी में आग लगी गई. तेज हवा होने की वजह से आग ने वार्ड नंबर 10 को पूरी तरह से चपेट में ले लिया. इसके बाद आग की चपेट में वार्ड नंबर 9 भी आ गया. किसी तरह लोगों ने झोपड़ियों से बाहर निकलकर जान बचाई.

अगलगी के बाद अफरातफरी मच गई. लोग आग बुझाने के लिए एक-दूसरे की मदद करते दिखे. जिसके हाथों में जो बर्तन दिखा, उसी से ही आग बुझाने लगे. लेकिन तेज हवा की वजह से आग की लपटों पर कंट्रोल करना मुश्किल हो गया. अगलगी में कपड़ा, बर्तन, गहने समेत कई मवेशी भी जलकर राख हो गए.

अगलगी की सूचना मिलते ही फायर ब्रिगेड की तीन गाड़ी घटनास्थल पर पहुंची. लेकिन तबतक काफी देर हो चुकी थी. रास्ता खऱाब होने की वजह से अग्निशमन को यहां तक पहुंचने में काफी समय लग गया. फायर ब्रिगेड की टीम को देर से से पहुंचने के कारण स्थानीय लोगों में आक्रोश है. सभी का आशियान छिन जाने के कारण खुले आसमान के नीचे दिन गुजारने को मजबूर हो गए हैं.