6 जिलों के डीएम पर हो सकती है कार्रवाई, खफा हैं चीफ सेक्रेटरी अंजनी सिंह

लाइव सिटीज डेस्क : बिहार में 6 जिलों के डीएम पर कार्रवाई हो सकती है. इन्हें शो काउज नोटिस भेजा गया है. यह नोटिस राज्य शिक्षा विभाग की ओर से जारी की गई है. हाल ही में बिहार के चीफ सेक्रेटरी अंजनी कुमार सिंह द्वारा बुलाई गई बैठक में कुछ जिलों के डीएम शामिल नहीं हुए थे. जिसके बाद उन्हें यह नोटिस भेजा गया.  बैठक से इन जिलाधिकारियों के नदारद रहने पर चीफ सेक्रेटरी अंजनी कुमार सिंह खफा बताये जा रहे हैं.

बता दें कि 22 सितम्बर को अधिवेशन भवन में बिहार के मुख्य सचिव अंजनी कुमार सिंह की अध्यक्षता में सभी जिले के डीएम, डीपीओ और डीपीसी की बैठक बुलाई गई थी. यह बैठक 2 अक्टूबर को होने वाले कार्यक्रम जैसे सामाजिक कुरीतियाँ दहेज़ प्रथा, बाल विवाह, आदि से जुड़े मुद्दे पर बुलाई गई थी. इसके अलावा सरकार बापू आपके द्वार,गांधी कथा वचन जैसे खास कार्यक्रम पर भी चर्चा हुई थी. लेकिन इस बैठक में नालंदा,  वैशाली, सिवान, मधुबनी, अररिया और किशनगंज के डीएम बिना किसी जानकारी के गायब थे. साथ ही 3 डीपीओ, 4 डीपीसी भी इस मीटिंग में शामिल नहीं हुए थे.

इन सभी पर अनुशासनहीनता का आरोप लगाया गया है. कहा गया है कि इस महत्वपूर्ण बैठक में बिना किसी उचित रीजन के शामिल नहीं होने को बहुत गंभीरता से लिया गया है. यह पूरी तरह से अनुशासनहीनता के तहत आता है. इन सभी को सफाई देने के लिए 1 सप्ताह का वक्त दिया गया है. अगर ये सभी उचित कारण बताने में असफल रहे तो इनके खिलाफ कार्रवाई भी की जा सकती है. यह बातें  शिक्षा विभाग के सचिव रोबर्ट एल चोंगथू ने कही.  बता दें कि मीटिंग से गायब रहने वाले डीपीओ मुजफ्फरपुर, भोजपुर और सहरसा के हैं.  वहीं बेगूसराय, बक्सर, औरंगाबाद, और मधेपुरा के डीपीसी भी बैठक से गायब थे.

Patna में चलिए Sangeeta, यहां TV के साथ TV फ्री मिल रहा है अभी

मौका है : AIIMS के पास 6 लाख में मिलेगा प्लॉट, घर बनाने को PM से 2.67 लाख मिलेगी ​सब्सिडी

RING और EARRINGS की सबसे लेटेस्ट रेंज लीजिए चांद​ बिहारी ज्वैलर्स में, प्राइस 8000 से शुरू

चांद बिहारी अग्रवाल : कभी बेचते थे पकौड़े, आज इनकी जूलरी पर है बिहार को भरोसा

(लाइव सिटीज मीडिया के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)