बिहार में क्राइम ग्राफ में आया अचानक उछाल, अब बक्सर में आरजेडी नेता के बेटे की गोली मारकर हत्या

लाइव सिटीज,सेंट्रल डेस्क :  बिहार में अपराधी बेलगाम हो गए हैं. खासकर विधानसभा चुनाव के बाद क्राइम ग्राफ में अचानक इजाफा हो गया है. अपराधियों के निशाने पर अब सियासी फैमिली भी आने लगी है. चुनाव से लेकर अब तक दो माह में इस तरह के आधा दर्जन परिवार अपराध की चपेट में आ गए हैं. अब तो सत्ता पक्ष के घटक दल बीजेपी भी बिहार में बिगड़ते लॉ एंड ऑर्डर पर अंगुली उठाने लगे हैं, जबकि विपक्ष तो पहले से ही महाजंगलराज कह रहा है. ताजा मामला गुरुवार को बक्सर में हुआ है. आरजेडी नेता के पुत्र की अपराधियों ने गोली मार कर हत्या कर दी. युवक के सिर में गोली मारी गई है. मृतक चंदन भारती आरजेडी नेता संतोष भारती के पुत्र थे. संतोष भारती आरजेडी अतिपिछड़ा प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष हैं. 

बक्सर के औद्योगिक थाना क्षेत्र स्थित सरिमपुर अहिरौली में उस समय अफरातफरी मच गई, जब चंदन भारती का शव आज सुबह सड़क किनारे फेंका हुआ मिला. बगीचे में पड़े इस शव की जानकारी लोगों ने पुलिस को दी. घटनास्थल से पुलिस ने 9 एमएम का एक खोखा भी बरामद किया है. बताया जाता है कि 21 वर्षीय चंदन बुधवार की रात लगभग आठ बजे अपनी मां से किसी काम के लिए 100 रुपये मांगकर घर से निकले थे. इसके बाद वह काफी देर तक घर नहीं लौटा. तब घर वालों ने खोजबीन शुरू की. सगे-संबंधियों समेत जान-पहचान वालों से फोन पर संपर्क किया. लेकिन चंदन का कुछ भी पता नहीं चला.



अनहोनी की आशंका से सहमे चंदन के पिता संतोष भारती ने औद्योगिक पुलिस को इसकी जानकारी दी. पुलिस को जब सुबह युवक का शव मिला तो वह पहचान में नहीं आ रहा था. पुलिस ने आरजेडी नेता संतोष भारती से भी संपर्क किया. शव की पहचान के लिए उन्हें पोस्टमॉर्टम हाउस बुलाया गया. फिर उसकी पहचान करायी गयी.

अचेत हो गए पिता तो मां का रो-रोकर बुरा हाल

पुत्र चंदन भारती के शव को पहचानते ही पिता संतोष भारती खुद को काबू में नहीं रख सके और वहीं पर अचेत होकर गिर पड़े. किसी तरह लोगों ने उन्हें काबू में किया. दूसरी ओर, घटना की जानकारी मिलते ही घर में कोहराम मच गया. मां का भी रो-रोकर बुरा हाल है. राजद के जिलाध्यक्ष शेषनाथ सिंह समेत अन्य स्थानीय नेता व सगे-संबंधी वहां पहुंचे और पीड़ित परिवार को ढांढस बंधाया.

हाल की वारदातों पर एक नजर

7 दिसंबर 2020: खगड़िया के अलौली में 7 दिसंबर को राजद नेता के चचेरे भाई की गोली मार कर हत्या कर दी गई थी. अलौली दिवंगत पूर्व केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान का गृहक्षेत्र है. मृत सुजीत यादव आरजेडी जिलाध्यक्ष कुमार रंजन के चचेरे भाई थे. परिजनों ने जदयू की पूर्व विधायक पूनम देवी के भाई पर आरोप लगाया है.

6 दिसंबर 2020 : खगड़िया के बेलदौर में 6 दिसंबर को जेडीयू नेता व पूर्व पंचायत समिति सदस्य नरेश राम की अपराधियों ने गोली मार कर हत्या कर दी थी. घटना के समय वे सुबह में घर के पास ही टहल रहे थे. नरेश राम वर्ष 2001 से 2010 तक पंचायत समिति सदस्य रह चुके थे. वे जदयू के बेलदौर प्रखंड उपाध्यक्ष भी रह चुके थे.

4 दिसंबर 2020: भागलपुर में 4 दिसंबर को हुए गैंगवार में मुखिया पति पप्पू भगत की अपराधियों ने गोली मार कर हत्या कर दी थी. मृत पप्पू की पत्नी खगड़िया की बंदेहरा पंचायत की मुखिया हैं. इससे पहले 2019 में 28 नवंबर को पप्पू पर खगड़िया में हमला हो गया था. इसके बाद से पप्पू भागलपुर में रह रहे थे, पर यहां भी नहीं बचे.

24 अक्टूबर 2020: बीच चुनाव में शिवहर में डबल मर्डर हो गया था. 24 अक्टूबर की रात में अपराधियों ने निर्दलीय प्रत्याशी समेत समर्थक की भी हत्या कर दी थी.  शिवहर विधानसभा क्षेत्र से जनता दल राष्ट्रवादी पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ रहे श्रीनारायण सिंह को अपराधियों ने गोली से भून दिया था. बाद में एक आरोपी को भीड़ ने मार दिया था.

4 अक्टूबर 2020: पूर्णिया के मुर्गी फॉर्म रोड में आरजेडी एससी-एसटी प्रकोष्ठ के प्रदेश सचिव शक्ति मल्लिक की गोली मार कर हत्या कर दी गई थी. इसमें तेजस्वी यादव को भी आरोपी बनाया गया था. उन्होंने सीएम नीतीश कुमार को पत्र लिख कर कार्रवाई की मांग की. फिर जांच में खुलासा हो गया कि असली मामला क्या है.  

1 अक्टूबर 2020 :पटना के बेऊर थाना क्षेत्र स्थित तेज प्रताप नगर में बीजेपी नेता राजेश कुमार झा की बाइक सवार अपराधियों ने गोली मार कर हत्या कर दी थी. वह एक अक्टूबर को मॉर्निंग वाक पर निकले थे कि दो बाइक सवारों ने घटना को अंजाम दिया. वे सीतामढ़ी के रहनेवाले थे तथा हाल ही में बीजेपी में शामिल हुए थे.