पटना के बेऊर जेल से मिले मोबाइल, चार्जर और गांजा मामले में कार्रवाई, 3 कक्षपाल किए गए सस्पेंड

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: बिहार के सभी जिलों में एक साथ जेलों में छापेमारी की गयी. राजधानी पटना के बेऊर जेल में भी शनिवार को सुबह-सुबह पुलिस टीम ने रेड मारा. जहां से मोबाइल, चार्जर, सिम और गांजा बरामद किया गया. अचानक हुई छापेमारी से जेल में अफरातफरी मच गया. इतनी सुबह पुलिस टीम ने रेड मारा जब कैदी अपने-अपने वार्ड में सो रहे थे.

शनिवार सुबह करीब 4:40 बजे पटना जिला प्रशासन के निर्देश पर बेऊर थाना, फुलवारी शरीफ एसपी, परसा थाना के पदाधिकारी भारी दल बल के साथ बेउर जेल पहुंचे और छापेमारी शुरू कर दी. इस दौरान प्रशासन ने जेल के कोने कोने को जमकर खंगाला. लगभग 4 घंटे तक चली छापेमारी के दौरान पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है. जेल के वार्ड से पांच मोबाइल, चार्जर और गांजा बरामद हुआ.

जेल से मोबाइल, चार्जर और गांजा मिलने के बाद कार्रवाई करते हुए तीन कक्षपाल को निलंबित कर दिया गया. जबकि दो को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है. उधर जेल प्रशासन ने कैदी वार्डो से मोबाइल और चार्जर मिलने पर आश्चर्य जताते हुए जेल कर्मचारियों की मिलीभगत की आशंका जतायी है.

उधर मुजफ्फरपुर के शहीद खुदीराम बोस सेंट्रल जेल में अहले सुबह उस वक्त हड़कम्प मच गया जिस वक्त छापेमारी के लिए वरीय पुलिस अधीक्षक जयंत कांत, नगर पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार और पूर्वी अनुमंडल पदाधिकारी कुंदन कुमार बल के साथ पहुंचे. बिहार के कई जेल समेत मुजफ्फरपुर सेंट्रल जेल में भी छापेमारी की गई. SSP जयंतकांत, सिटी SP राजेश कुमार और पूर्वी SDM कुंदन कुमार के नेतृत्व मे भारी संख्या में कई थानों की पुलिस बल के साथ घण्टों चली छापेमारी इस दौरान जेल के सभी वार्डो में तलाशी ली गई. तलाशी में जेल से कुछ आपत्तिजनक सामग्री भी बरामद किए गए. जिसमें तम्बाकू, सिगरेट, USB इलेक्ट्रिक वायर, मोबाइल की 2 बैटरी सहित अन्य सामान शामिल हैं.