नालंदा से गोद ली गई सरस्वती की अमेरिका में मौत, हॉस्टन पुलिस ने किया शव बरामद

लाइव सिटीज डेस्क : अमेरिका के टेक्सास में गुम हुई नालंदा की 3 वर्षीय शेरिन मैथ्यूज उर्फ़ ‘सरस्वती’ की मौत हो गई है. होस्टन पुलिस ने बच्ची के शव को बरामद कर लिया हैबता दें कि  उसे अपने घर से गायब हुए 15 दिन हो गए हैं. स्थानीय पुलिस ने सरस्वती के दत्तक पिता वेस्ली मैथ्यूज को पहले अरेस्ट किया था, फिरे बाद में उन्हें बांड पर छोड़ दिया गया था. लेकिन अब पुलिस ने दोनों दंपति के खिलाफ अरेस्ट वारंट जारी कर दिया है.

बता दें कि शेरिन उर्फ़ सरस्वती की वापसी के लिए शहर में प्रार्थना सभाएं भी आयोजित की जा रही थी. Dallasnews.com के अनुसार बीते शुक्रवार को ही डलास के रिचर्डसन शहर (जहां मैथ्यूज फैमिली रहती है) में उनके घर के पास एक ऐसी ही सभा हुई थी. सभा का आयोजन स्कॉट स्नाइडर और निकोल स्नाइडर ने किया था. ये लोग सोशल मीडिया पर ‘Finding Sherin Mathews’ नाम से ग्रुप्स और पेजेज संचालित कर रहे हैं. 

बच्ची की गुमशुदगी की जांच कर रही FBI ने इस हफ्ते मैथ्यूज की घर की तलाशी में कुछ अहम सुराग हासिल किये थे.  पुलिस को यह पता चला है कि मैथ्यूज परिवार की एक SUV गाडी घटना की अनुमानित समय के दौरान उनके घर पर नहीं थी. पुलिस ने तलाशी में कुल 47 सामानों को भी जब्त किया था. इनमें बाल की तरह के फाइबर, ड्रायर, 5 मोबाइल, 3 लैपटॉप, कूड़ा उठाने वाले बैग और डिजिटल कैमरा को बरामद किया था. साथ ही उक्त SUV से रेडियो, मॉनिटर, सीट बेल्ट, फ्लोर मैट, USB ड्राइव को भी DNA सैंपलिंग के लिए जब्त किया गया था.

गौरतलब है कि सरस्वती को बीते साल 23 जून को नालंदा के NGO मदर टेरेसा अनाथ सेवा संस्थान से गोद दिया गया था. उसे मूल रूप से केरल के रहने वाले अमेरिकन दं​पति से गोद लिया था. आरोप है कि उसे शनिवार 7 अक्टूबर की आधी रात को घर से निकाल दिया गया. उसका अपराध सिर्फ इतना था कि उसने अपना दूध पूरा खत्म नहीं किया था. वेस्ली मैथ्यूज के पुलिस को दिए बयान के अनुसार जब उन्होंने बच्ची को घर से बाहर निकाला, उस वक़्त उनकी पत्नी सिनी मैथ्यूज सो रही थी.