पटना : पोस्टर-बैनर हटाने का निर्देश, आचार संहिता को ले फैसला

डीएम कुमार रवि (फाइल फोटो )

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : लोकसभा चुनाव 2019 की तारीखों का एलान होने के बाद बिहार सहित देशभर में आचार संहिता लागू हो गई है. बिहार की 40 लोकसभा सीटों के लिए चुनाव 7 चरणों में संपन्न कराया जाएगा. चुनाव आयोग ने लोकसभा क्षेत्रवार हर चरण में होने वाले मतदान की तारीख घोषित कर दी है. पटना में पोस्टर हटाने का निर्देश जारी कर दिया गया है.

लोकसभा चुनाव-2019 को लेकर जिला और पुलिस प्रशासन ने सोमवार को संयुक्त प्रेस कांफ्रेंस आयोजित की. जिलाधिकारी कुमार रवि की अध्यक्षता में आयोजित प्रेस वार्ता में एसएसपी गरिमा मलिक भी मौजूद थी. जिलाधिकारी सह निर्वाचन पदाधिकारी ने कहा कि रैली और जूलुस के लिए प्रशासनिक अनुमति लेना जरूरी होगा.

साथ ही निर्देश दिया कि चुनावी गतिविधियों के कारण स्कूलों में पढ़ाई प्रभावित ना हो. चुनाव के दौरान एक उम्मीदवार को अधिकतम 70 लाख रुपए तक खर्च करने की अनुमति होगी. राजनीतिक दल एक लाख तक लेन-देन कर सकते हैं. लेकि, 50 हजार रुपए से अधिक की राशि साथ होने पर पूछताछ की जाएगी. प्रेस कांफ्रेंस में बताया गया कि 128 लोगों पर सीसीए लगाने का प्रस्ताव मिला है.

पटना साहिब और पाटलिपुत्र लोकसभा क्षेत्र के लिए 22 अप्रैल को नोटिफिकेशन जारी किए जाएंगे. नामांकन दाखिल करने की अंतिम तिथि 29 अप्रैल होगी. वहीं, नामांकन पत्रों की स्क्रूटनी 30 अप्रैल को की जाएगी. जबकि, नाम वापस लेने की अंतिम तिथि दो मई होगी. पटना साहिब और पाटलिपुत्र लोकसभा सीटों के लिए 19 मई को मतदान होंगे.

वहीं, उन्होंने बताया कि मुंगेर लोकसभा सीट के लिए दो अप्रैल को नोटिफिकेशन जारी किए जाएंगे. नामांकन की अंतिम तिथि नौ अप्रैल होगी. दस अप्रैल को नामांकन पत्रों की स्क्रूटनी की जाएगी. साथ ही 12 अप्रैल को नामांकन पत्र वापस लिए जा सकेंगे. यहां 29 अप्रैल को वोट डाले जाएंगे. मतों की गणना 23 मई को की जाएगी.

लोकसभा चुनाव को लेकर बताया कि पटना जिले में 24,11,985 पुरुष मतदाता, 21,75,836 महिला मतदाता के साथ-साथ 177 तृतीय लिंग के मतदाता हैं. जिले में कुल 45,87,998 मतदाता हैं. इनमें 18-19 वर्ष के कुल मतदाताओं की संख्या 27,390 है, जबकि 20-29 साल के मतदाताओं की संख्या 10,11,428 है. जिले में कुल 2688 मतदान केंद्रों के 4620 बूथों पर मत डाले जाएंगे. जिले में कुल 31390 दिव्यांग मतदाता हैं. दिव्यांग मतदाता को मतदान के लिए वाहन की व्यवस्था करायी जाएगी. साथ ही कहा कि मतदान के लिए एक पहचान पत्र आवश्यक होगा.

अभी कुछ दिन पहले डीएम कुमार रवि ने लोकसभा चुनाव को लेकर मैराथन बैठक की. उन्होंने सभी एसडीओ और एसडीपीओ को चुनाव की घोषणा होने के 24 घंटे के अंदर बैनर-पोस्टर हटाने का निर्देश दिया था. उन्होंने कहा था कि निजी भवनों पर लिखित अनुमति के बाद ही होर्डिंग, बैनर-पोस्टर और झंडा लगाया जाएगा. स्कूल की दीवारों पर नारा लिखने व पोस्टर-बैनर लगाने पर रोक रहेगी. स्कूल खुला रहने पर कैंपस में राजनीतिक दलाें के कार्यक्रम की अनुमति नहीं दी जाएगी. स्कूल के खेल मैदान में हेलीकॉप्टर उतारने की अनुमति नहीं देनी है. प्राइवेट जमीन पर जमीन मालिक की अनुमति के साथ हेलीकॉप्टर उतारने की अनुमति दी जा सकती है.

इस मौके पर एसएसपी गरिमा मलिक, सिटी एसपी पीके दास, सिटी एसपी पूर्वी आरके भील, सिटी एसपी पश्चिमी अभिनव कुमार, ग्रामीण एसपी संजय सिंह, सदर अनुमंडल पदाधिकारी कुमारी अनुपम सहित सभी अनुमंडल पदाधिकारी, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी और सहायक निर्वाची पदाधिकारी मौजूद थे.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*