बिहार में एक और गठबंधन , यूडीएसए का एलान करते हुए ओवैसी ने आरजेडी को कहा- 2019 का लोकसभा रिजल्ट भूल गए क्या ?.

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क :  बिहार में एक नया गठबंधन सामने आया है. जिसका नाम यूडीएसए (यूनाइटेड डेमोक्रेटिक सेक्युलर एलायंस) रखा गया है. एआईएमआईएम और देवेंद्र यादव की पार्टी समाजवादी जनता दल के बीच गठबंधन हुआ है. जिसकी जानकारी असदुद्दीन ओवैसी ने दी है.

पटना मे प्रेस कांफ्रेस करते हुए ओवैसी ने कहा कि गठबंधन को और बड़ा करने के लिए कई पार्टियों से बात चल रही है. पूरे दमखम के साथ गठबंधन में बिहार विधानसभा चुनाव में अपने उम्मीदवार उतारेगा.



वहीं राजद द्वारा वोट कटवा कहे जाने पर ओवैसी ने कहा कि जो लोग हमें वोट कटवा कहते हैं वे 2019 के लोकसभा चुनाव में हुए अपने हश्र को याद कर लें. मुस्लिम वोटरों पर किसी का अधिकार नहीं है. कोई मुस्लिम वोटरों पर किस हैसियत से दावा करता है यह समझ में नहीं आता है.

ओवैसी ने कहा कि  हम किसी एक धर्म की राजनीति नहीं करते हैं. हम ट्वीकल ट्वीकल लिटिल स्टार है. हम पर जो आरोप लगाया जाता है वह गलत है. बिहार की जनता देख रही है कि कौन-कौन किसको भाव दे रहा है.

प्रेस कांफ्रेंस में मौजूद पूर्व सांसद व समाजवादी जनता दल के नेता देवेन्द्र प्रसाद ने कहा कि बिहार में विपक्ष अपना कर्तव्य नहीं निभा रही है. तीस साल से चीनी मिल और जुट मील बंद पड़ा है. मजदूर पलायन कर रहे हैं. बिहार में बेरोजगारी ज्यादा है. लोगों को रोजी-रोटी के लिए दूसरे राज्य में जाना पड़ता है. पूरे देश के किसानों में कहर मचा हुआ है. उनका हाल बेहाल है.

इस बार ओवैसी की पार्टी 50 सीटों पर चुनाव लड़ेगी. पार्टी ने 32 सीटों का ऐलान भी कर दिया है. एआईएमआईएम ने जिन 32 सीटों को चिह्नित किया है उनमें से महज दो सीटें आरक्षित हैं, बाकी सीटें सामान्य जाति के लिए हैं. इनमें से ज्यादातर सीटें मुस्लिम बहुल मानी जाती हैं.