सोनिया गांधी ने की अशोक चौधरी की अध्यक्ष पद से छुट्टी

लाइव सिटीज डेस्क : बिहार कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अशोक चौधरी को हटा दिया गया है. पिछले कुछ दिनों से उनके बागी तेवर के कारण पार्टी के राष्ट्रीय नेतृत्व पर भी दबाव बढ़ने लगा था. उन्होंने साफ तौर पर कहा था कि पार्टी जल्द फैसला ले कि उन्हें प्रदेश अध्यक्ष बनाए रखना है या नहीं. उन्होंने पार्टी आलाकमान पर दलित के उत्पीड़न का भी आरोप लगाया था.

बता दें कि बिहार में महागठबंधन के बिखरने के बाद से ही अशोक चौधरी के भविष्य पर सवाल उठने लगे थे. इसी बीच खबर आने लगी थी कि कांग्रेस के विधायक भी बगावत के मूड में हैं. पार्टी नेताओं में बगावत की खबर ने आलाकमान को डैमेज कंट्रोल के लिए खुद उतरने पर मजबूर कर दिया था. पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी ने अशोक चौधरी को हटाने के साथ ही प्रदेश कांग्रेस कमिटी को भी भंग कर दिया है.

नए अध्यक्ष का ऐलान जल्द किए जाने की उम्मीद है. अध्यक्ष पद के दावेदारों में भारत सरकार के पूर्व मंत्री अखिलेश प्रसाद सिंह और बिहार सरकार के पूर्व मंत्री मदन मोहन झा का नाम सबसे आगे चल रहा है. अन्य दावेदारों में अमिता भूषण और प्रेम चंद्र मिश्र की चर्चा भी है. बताया जा रहा है कि राहुल गांधी के गुजरात दौरे से लौटने के तुरंत बाद फैसला हो सकता है. जरूरत पड़ने पर बीच में ही निर्णय होगा.

अध्यक्ष पद से हटाए गए अशोक चौधरी भी अब अपने प्लान पर आगे बढ़ेंगे. पार्टी आलाकमान को यह शिकायत की गई थी कि कांग्रेस विधायक दल को तोड़ने में जो लोग लगे हैं, उनसे अशोक चौधरी का भी संपर्क बना हुआ है. चौधरी के रिश्ते नीतीश कुमार से अच्छे रहे हैं. कई लोग तो यह भी कहने लगे थे कि वे विधायकों के टूटने के पहले विधान पार्षदों के साथ जदयू की ओर कूच कर जाएंगे.

यह भी पढ़ें :-
Patna में चलिए Sangeeta, यहां TV के साथ TV फ्री मिल रहा है अभी
मौका है : AIIMS के पास 6 लाख में मिलेगा प्लॉट, घर बनाने को PM से 2.67 लाख मिलेगी ​सब्सिडी
RING और EARRINGS की सबसे लेटेस्ट रेंज लीजिए चांद​ बिहारी ज्वैलर्स में, प्राइस 8000 से शुरू
चांद बिहारी अग्रवाल : कभी बेचते थे पकौड़े, आज इनकी जूलरी पर है बिहार को भरोसा

(लाइव सिटीज मीडिया के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)