ताजमहल विवाद : अब आजम खान बोले- राष्ट्रपति भवन को भी गिरा दो

azam-khan1
फाइल फोटो

लाइव सिटीज डेस्क : ताजमहल पर उठा विवाद अब गहराता जा रहा है सियासत तेज हो गई है. भाजपा विधायक संगीत सोम का ताजमहल पर दिया गया बयान अब तूल पकड़ चुका है. इस पर सोमवार को AIMM प्रमुक्ष असदुद्दीन ओवैसी तगड़ा हमला कर चुके हैं. अब इस पर और भी कड़ा पलटवार हुआ है. सपा नेता आजम खान ने कहा है कि ताजमहल के साथ-साथ राष्ट्रपति भवन को भी गिरा देना चाहिए क्योंकि वह भी गुलामी की याद दिलाता है. 

मंगलवार (17 अक्टूबर) को मीडिया से बात करते हुए आजम ने कहा कि हम लोगों को गुलामी की सभी निशानियों को नष्ट कर देना चाहिए जो हमें याद दिलाती हैं कि उन्होंने हमपर राज किया था. मैंने पहले भी कहा है कि हमें संसद, कुतुब मिनार, राष्ट्रपति भवन, लाल किला और आगरा का यह ताज महल सब नष्ट कर देना चाहिए.

यह विवाद संगीत सोम के बयान के बाद शुरू हुआ जिसमें उन्होंने बाबर, अकबर और औरंगजेब को ‘गद्दार’ कहा था. सोम ने कहा था कि इतिहास को तोड़-मरोड़ कर पेश करके उन लोगों को महापुरुष बताया गया. संगीत सोम ने कहा था कि ताजमहल हमारी संस्कृति पर धब्बा है. जिस पर असदुद्दीन ओवैसी ने पलटवार करते हुए कहा था कि ताजमहल के साथ साथ लाल किले को भी गद्दारों ने ही बनवाया था तो क्या पीएम मोदी लाल किले से झंडा फहराना छोड़ देंगे.

संगीत सोम ने आगे यह भी कहा था कि इनका नाम इतिहास से हटेगा और देश के असली महापुरुष महाराणा प्रताप, शिवाजी आदि का इतिहास अब स्कूल कॉलेजों में बच्चों को पढ़ाया जाएगा. सोम ने यह भी कहा था कि अयोध्या में राम मंदिर और मथुरा में कृष्ण मंदिर भव्य बनेगा और उनके निर्माण को कोई नहीं रोक सकता.