माफिया डॉन अखिलेश सिंह को लाया जा रहा जमशेदपुर

लाइव सिटीज डेस्क : पिछले महीने ही पुलिस से मुठभेड़ के बाद गुड़गांव में गिरफ्तार हुआ कुख्यात माफिया डॉन अखिलेश सिंह को जमशेदपुर लाया जा रहा है.  अखिलेश सिंह पर कुल 56 मामले चल रहे हैं. जमशेदपुर में हुए उपेंद्र सिंह हत्याकांड मामले में पुलिस को प्रोडक्शन वारंट पर अखिलेश सिंह को जमशेदपुर लाने की अनुमति मिली है. बता दें कि अखिलेश सिंह पर  कोर्ट कैंपस में ट्रांसपोर्टर उपेंद्र सिंह की हत्या का आरोप है. मिल रही सूचना के मुताबिक अखिलेश सिंह की पत्नी को भी जमशेदपुर लाया जा रहा है. उन पर भी दस्तावेज में फर्जीवाड़ा का केस चल रहा है.

मालूम हो कि पिछले महीने 11 अक्टूबर को  हरियाणा के गुड़गांव के एक होटल से कुख्यात डॉन अखिलेश सिंह को पत्नी समेत दबोचा गया था. जिसके बाद से उसे गिरफ्तार कर गुड़गांव में ही रखा गया था. जानकारी के अनुसर सीआईए यूनिट 9 के इंचार्ज राजकुमार को मुखबीर से सूचना मिली थी कि बिहार और झारखंड में पचास से ज्यादा वारदत को अंजाम देने वाला सात लाख रुपये का ईनामी बदमाश अखिलेश गुरुग्राम में आने वाला है. मुखबीर की सूचना पर पुलिस ने अपनी टीम लगाई. बदमाश जैसे ही डीएलएफ इलाके में पहुंचा पुलिस ने उसे घेर लिया और सेरेंडर करने को कहा.

पुलिस को सामने देख अखिलेश सिंह  ने फायरिंग शुरू कर दी. दोनों तरफ से हुई फायरिंग में बदमाश अखिलेश के पैर में दो गोली लगी, जिसके बाद घायल हालत में उसे गिरफ्तार कर लिया गया.

बता दें कि अखिलेश सिंह का जमशेदपुर में इतना बड़ा आतंक था कि झारखंड पुलिस ने उस पर सात लाख रुपए का इनाम घोषित कर रखा था. अखिलेश के पिता झारखंड पुलिस से रिटायर हुए हैं और झारखंड पुलिस मेंस एसोसिएशन के अध्यक्ष भी रह चुके हैं. उनपर 11 सितंबर 2017 को जमशेदपुर में गोलियां चली थीं. अखिलेश सिंह पर जमशेदपुर के जेलर की हत्या, कोर्ट कैंपस में ट्रांसपोर्टर उपेंद्र सिंह की हत्या, जज आरपी रवि और पुलिस इंस्पेक्टर पर फायरिंग समेत अपहरण और रंगदारी के 50 से अधिक मामले दर्ज हैं.