लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : सरकारी बैंकों की ओर से ग्राहकों के लिए एक अच्छी खबर है. जल्द ही देश के लगभग सभी सरकारी बैंकों के ग्राहक घर बैठे ही बैंकिंग सेवाओं का लाभ ले सकेंगे. इसका सबसे ज्यादा फायदा उन बैंक ग्राहकों को होगा जो घरों से अकेले बाहर जाने में असमर्थ हैं.

सरकारी बैंकों के द्वारा यह सुविधा शुरू करने से वरिष्ठ नागरिकों और दिव्यांगों को काफी लाभ मिलेगा. इन सेवाओं में ग्राहकों को घर बैठे ही खाते में पैसा जमा करने और निकालने की सुविधा के साथ अन्य बैंकिंग सेवाएं भी मिलेंगी.

कॉमन सर्विस प्रोवाइडर के जरिए मिलेगी सुविधा

बता दें कि RBI ने कई साल पहले ही घर पर बैंकिंग सुविधा शुरू करने की बात कही थी. इसी को लेकर सभी बैंकों ने साझा निर्णय कर कॉमन सर्विस प्रोवाइडर के जरिए ऐसा करने की सोची है. इस सर्विस प्रोवाइडर के पास कॉल सेंटर, वेबसाइट और एक मोबाइल एप होना चाहिए, जिसके जरिए बैंक सेवाएं उपलब्ध कराएगा. यूको बैंक ने इसके लिए सभी बैंकों की तरफ से निविदा आमंत्रित करेगी.

जानिए कौन-कौन सी सेवाएं मिलेंगी:

* नगदी जमा व निकासी

* चेक, ड्राफ्ट का पिकअप

* खाते का स्टेटमेंट

* नए चेकबुक के लिए स्लिप

* गैर व्यक्तिगत चेकबुक, ड्राफ्ट, एफडी रसीद

* फॉर्म का पिकअप (15G, 15H )

* आयकर विभाग का चालान

* टीडीएस, फॉर्म 16 सर्टिफिकेट

* स्टैंडिंग इंस्ट्रक्शन जारी करना

बता दें कि सर्विस प्रोवाइडर कंपनी अपनी तरफ से एजेंट को नियुक्त करेगी, जो कि लोगों को घर पर ये सुविधाएं मुहैया कराएंगे. पहले चरण में यह सुविधा केवल वरिष्ठ नागिरकों और दिव्यांगों को मिलेगी, जिसके बाद इसे कुछ शुल्क के साथ अन्य लोगों के लिए भी शुरू किया जाएगा. बैंक पहले तीन साल के लिए सर्विस प्रोवाइडर के साथ कांट्रैक्ट करेंगे, जिसको आगे दो साल के लिए बढ़ाया जा सकता है. सर्विस प्रोवाइडर को सेवाएं उसी दिन देनी होगी.

जलजमाव के बाद डेंगू बरपा रहा है कहर, अब सीएम नीतीश के PRO हुए बीमार