बेगूसराय ज्वेलरी दुकान लूटकांड का खुलासा, करोड़ों के जेवरात के साथ पकड़े गए 11 अपराधी

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : बेगूसराय के ज्वेलरी दुकान में हुई लूटकांड का पुलिस ने खुलासा किया है. जिले की पुलिस ने खुलासा करते हुए मामले में शामिल 11 अपराधी को धर दबोचा है. जिनके पास से लूटे गए सोने के जेवरात, हथियार भी बरामद कर लिया गया है. जिलें में अबतक के सबसे बड़ी लूट स्थानीय पुलिस के लिए एक चुनौती थी.

28 अगस्त को जिले के तेघड़ा थाना क्षेत्र में मेन रोड पर राजलक्ष्मी (हरिहर बाबू की ज्वेलरी दुकान) में अपराधियों ने करोड़ों के जेवरात लूटकर फरार हो गए. इस घटना से पुलिस महकमे में खलबली मच गयी. व्यवसायी संघ ने इस घटना की विरोध करते हुए स्थानीय पुलिस प्रशासन के खिलाफ मोर्चा खोल दिया.



बताया जा रहा है कि दो बाइक पर सवार छह की संख्या में नकाबपोश सशस्त्र अपराधियों ने पिस्टल का भय दिखाकर लगभग 1.10 करोड़ रुपये मूल्य के जेवरात लूट लिए थे. वहां उन्‍होंने गोलीबारी कर दहशत फैली दी, लेकिन महज आधा किलोमीटर दूर स्थित थाने पुलिस समय रहते नहीं पहुंच सकी. 

लगभग 15 मिनट तक लूटपाट करने के बाद अपराधी जेवर से भरे डिब्बों को लेकर दुकान से बाहर निकाले और बाइक के पास रखे बोरा में उन्‍हें रखा. इसके बाद बाइक स्टार्ट करके चलते बने. स्थानीय लोगों की मानें तो तेघड़ा बाजार में यह पहली घटना थी, जब कोई अपराधी थाना से महज आधा किलोमीटर की दूरी पर दिनदहाड़े घटना को अंजाम देकर फरार हो गया. घटना के दौरान आस-पड़ोस के दुकानदार अपनी-अपनी दुकानों के शटर गिरा कर छुप गए थे. अपराधियों ने अगल-बगल के दुकानदारों में दहशत फैलाने के उद्देश्य से कई राउंड हवाई फायरिंग भी की थी. पूरा घटनाक्रम पास से सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गयी थी.

आनन फानन में मौके पर एसपी अवकाश कुमार ने पहुंचे और घटनास्थल से चार खोखे बरामद किए गए. सीसीटीवी फुटेज के आधार पर पुलिस ने मामले की पड़ताल करते हुए घटना में शामिल सभी अपराधियों को धर दबोचा. जिले की सीमाओं पर चौकसी बढ़ाकर पूरे मामले में सघन छापेमारी की गयी तब जाकर पुलिस को सफलता मिली.