बेगूसराय: गर्मी को लेकर सुबह 10 से शाम 4 बजे तक सरकारी और गैर सरकारी कामकाज पर रोक

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : गया के बाद अब बेगूसराय में भी धारा 144 लागू करने का आदेश दिया गया है. बेगूसराय के डीएम राहुल कुमार ने भीषण गर्मी को लेकर जिले में सुबह 10 बजे से शाम 4 बजे तक सरकारी और गैर सरकारी कामकाज पर श्रमिकों के काम पर रोक लगा दिया है. डीएम ने जिले में धारा 144 लागू कर 23 जून तक सुबह दस बजे से शाम चार बजे तक काम नहीं करने का आदेश दिया है. यह आदेश मनरेगा मजदूरों पर भी लागू होगा. बिहार में लू के प्रकाप के देखते हुए यह फैसला लिया गया है.

बिहार में मौसम ने लोगों के जन-जीवन को अस्त-व्यस्त कर दिया है. भीषण गर्मी और लू की कहर से पूरा बिहार इस समय जल रहा है. सरकारी आंकड़ों के मुताबिक पूरे बिहार में लू के प्रकोप से अबतक करीब 78 की मौत हो चुकी है. हालांकि सरकार और प्रशासन ने गर्मी को लेकर व्यवस्थाएं शुरू कर दी है. अस्पतालों में इलाज के साथ-साथ कूलर का इंतजाम भी किया जा रहा है. साथ ही जगह-जगह पर पीने के पानी की भी व्यवस्था की जा रही है.

गया में निषेधाज्ञा लागू

भीषण गर्मी के प्रकोप को देखते हुए गया के डीएम अभिषेक सिंह ने शहर में धारा 144 लगा दिया है. उन्होंने कहा कि मौसम सामान्य होने तक शहर में निषेधाज्ञा लागू रहेगी. डीएम अभिषेक सिंह ने निर्देश जारी किया है कि लोग सुबह 11 से शाम 4 बजे तक घर में ही रहें. वहीं किसी भी प्रकार के निर्माण कार्य पर भी 11 से 4 बजे तक रोक रहेगी. मनरेगा योजनाएं भी सुबह 10.30 बजे के बाद नहीं चलाए जाने का निर्देश जारी किया गया है. धारा 144 हटने तक खुले स्थानों पर कार्यक्रम की भी निषेधाज्ञा लागू रहेगी.

यह भी पढ़ें :भीषण गर्मी और लू से मौत का कहर जारी, गया डीएम ने लगाया धारा 144

यह भी पढ़ें : औरंगाबाद में स्वास्थ्य मंत्री मंगल पाण्डेय का भारी विरोध, दिखाए गए काले झंडे

आपको बता दें कि गया के अलावा औरंगाबाद, नालंदा और नवादा जिले में भी लू के प्रकोप से कई लोगों की मौत की ख़बरें हैं. औरंगाबाद में भीषण गर्मी के कारण सबसे ज्यादा 34 लोगों की मौत हुई है. वहीं मुंगेर जिले में भी लू और डायरिया की चपेट में आने से पांच लोगों की मौत हो गई.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*