लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : पूरे देश में कोरोना के खौफ को कम करने के लिए लॉकडाउन है. आम लोगों की  जिंदगी बंद कमरों तक रह गई है . अब ऐसे में जिनकी शादियां पहले से तय थी वे क्या करते. लेकिन एक रास्ता है न ऑनलाइन शादी करने का. दो सगी बहनों का ऑनलाइन निकाह कराया गया है.

बेगूसराय में अल्पसंख्यक समुदाय के एक परिवार ने अपनी दो बच्चियों का निकाह ऑनलाइन करवा कर एक नई मिसाल कायम की है. दो अलग-अलग जिलों के लड़कों के साथ बेगूसराय  की दो लड़कियों का ऑनलाइन निकाह चर्चा का विषय बना हुआ है.

बेगूसराय के बलिया नगर पंचायत क्षेत्र के मिरदहटोली वार्ड 5 में दो सगी बहनों का निकाह ऑनलाइन होना चर्चा का विषय बना हुआ है. बताया जा रहा है कि छोटी बलिया मिदहटोली निवासी मोहम्मद वली अहमद कुरेशी उर्फ छोटे की दो पुत्री नगमा परवीन एवं राहत परवीन की शादी 25 मार्च को तय की गई थी और इसी रोज बारात को आनी थी. लेकिन, कोरोना वायरस के कारण लॉक- डाउन की घोषणा हो गई.

बता दें कि लोगों ने निर्णय लिया कि निकाह तो होगा लेकिन न तो बारात आयेगी और न ही कोई तामझाम होगा. शादी अपने-अपने घरों में रहकर ऑनलाइन किया जाएगा. निर्णय के तहत 25 मार्च की शाम मोहम्मद वली अहमद कुरैशी की बड़ी बेटी नगमा परवीन की शादी नालंदा जिला के शमशाद और दूसरी बेटी राहत परवीन की शादी गया जिला के शाहनवाज आलम के साथ ऑनलाइन हुई.

लैपटॉप पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए मौलवियों ने एक एक कर दोनों लड़कों से निकाह की पूरी रस्में कराई और निकाह कबूल कराया गया. हालांकि शादी की लगभग सारी तैयारी हो चुकी थी लेकिन कोरोना वायरस को लेकर लॉकडाउन को स्पोर्ट करने और लोगों के बीच जन जागरण के लिए ऑनलाइन निकाह कराया गया.