नीतीश जी ! IAS बेटे के लिए जदयू MLA ने दहेज दुकान खोल ली है, घूसखोर लाइन में हैं

लाइव सिटीज, पटना : बिहार के जदयू विधायक के आईएएस बेटे की शादी के लिए दहेज के मामले में नया ट्विस्‍ट आ गया है . मुख्‍य मंत्री नीतीश कुमार बिहार में दहेजबंदी अभियान चला रहे हैं . मतलब दहेज प्रथा को कंटाप मारने में लगे हैं . लेकिन, जदयू विधायक नीतीश कुमार के मिशन को धत्‍ता बताने पर तुले हैं . ऐसा, बड़ा खुलासा ‘दैनिक जागरण’ , पटना के सीनियर जर्नलिस्‍ट सुभाष पांडेय कर रहे हैं .

अब यह तो सबों को पता है कि आज के दौर में अखबारों में सब कुछ नहीं छप सकता . इसलिए, सीनियर जर्नलिस्‍ट सुभाष पांडेय ने भी पूरी स्‍टोरी मुख्‍य मंत्री नीतीश कुमार के नाम चिट्ठी में लिखी है . इसे फेसबुक पर छापा गया है . नीतीश कुमार के नाम लिखा पत्र वायरल भी होने लगा है . सुभाष पांडेय चाहते हैं कि मुख्‍य मंत्री मामले की जांच करा लें . दावा कि आरोप सच साबित होगा . लाइव सिटीज से बातचीत में सुभाष पांडेय ने लेटर लिखने की बात को पुख्‍ता किया है .



दैनिक जागरण के सीनियर जर्नलिस्ट सुभाष पांडेय

हां, आप आगे पढ़ें, इसके पहले यह बता दें कि सुभाष पांडेय ने अपने पत्र में किसी विधायक का नाम नहीं खोला है . लेकिन यहां जान लेना जरुरी है कि औरंगाबाद के नबीनगर के जदयू विधायक वीरेन्‍द्र कुमार सिंह के पुत्र डा. विवेक कुमार पिछले वर्ष आईएएस बने हैं . लाइव सिटीज यह कंफर्म नहीं करता कि सीनियर जर्नलिस्‍ट सुभाष पांडेय जिस विधायक के आईएएस बेटे की शादी कर रहे हैं, वे वीरेन्‍द्र कुमार सिंह ही हैं . सात करोड़ में नहीं बिकेगा बिहार का ये IAS दूल्‍हा, बिना दहेज करेंगे राजपूताना शादी

गुस्‍सा मत करिएगा नीतीश कुमार जी

जर्नलिस्‍ट सुभाष पांडेय ने नीतीश कुमार के नाम लिखे पत्र के पहले पारा में ही गुस्‍सा वाली बात लिखी है . सुभाष ने कहा है कि आठ – नौ साल पहले जब उन्‍होंने शराब पर स्‍टोरी लिखी थी, तब मुख्‍य मंत्री नाराज हो गये थे . उस स्‍टोरी में अधिकारियों द्वारा 500 करोड़ की शराब गटके जाने की खबर ‘दैनिक जागरण’ में प्रकाशित की गई थी .

नीतीश कुमार (फाइल फोटो)

सह दूसरी बात है कि अब नीतीश कुमार ने बिहार में पूर्ण शराबबंदी की है . शराबबंदी के बाद दहेजबंदी को लेकर आगे बढ़े हैं . सुभाष ने अपने पत्र में नीतीश कुमार के अभियान में समर्थन में ‘दैनिक जागरण’ द्वारा चलाये जा रहे दहेज विरोधी अभियान की चर्चा भी की है .

दहेज के लिए भाजपा विधायक को गच्‍चा

अब सुभाष पांडेय ने आईएएस बेटे की शादी के लिए जदयू विधायक द्वारा खोले गये दहेज दुकान की विस्‍तार से चर्चा की है . पांडेय बताते हैं कि जदयू विधायक के संपर्क में अपनी बिटिया की शादी के लिए भाजपा के एक विधायक आए . दोनों पहले से जान-पहचान वाले हैं . भाजपा के विधायक मुख्‍य मंत्री नीतीश कुमार के करीबी भी हैं .

पांडेय का पत्र यह राज खोल रहा है कि भाजपा विधायक की बिटिया पसंद भी थी . बात को आगे बढ़ाने के लिए दिल्‍ली के बड़े होटलों में दो-तीन दौर की बातचीत हुई . इस बातचीत में लाख रुपये खर्च भी हो गये . लेकिन आगे अधिक बहुत अधिक दहेज के चक्‍कर में बातचीत फंस गई .

दहेज में पटना का घर भी चाहते थे जदयू विधायक

सुभाष बता रहे हैं कि जदयू विधायक के आईएएस बेटे से बिटिया की शादी के लिए भाजपा विधायक दिल्‍ली के द्वारिका में स्थित अपना फ्लैट देने को तैयार थे . इसकी कीमत सवा से डेढ़ करोड़ रुपये है . इसके अलावा भाजपा विधायक एसयूवी गाड़ी, दस – बीस लाख का जेवर और घरेलू सामान देने को भी तैयार हो गये थे .

लेकिन आईएएस बेटे की शादी के लिए दहेज की दुकान खोले जदयू विधायक को बस इतने से मन नहीं भर रहा था . वे चाहते थे कि भाजपा विधायक पटना वाले अपने फ्लैट को भी दे दें . पटना का यह ड्यूपलेक्‍स फ्लैट बोरिंग रोड इलाके में पोल फैक्‍ट्री के पास है . सुभाष पांडेय ने पत्र में यह भी बताया है कि नीतीश कुमार मुख्‍य मंत्री बनने के पहले इधर ही रहा करते थे .

पर, भाजपा विधायक इस ड्यूपलेक्‍स फ्लैट को देने को राजी नहीं हुए . उनका कहना था कि यह मेरे बुढ़ापे का आशियाना है . बस, यहीं से करीब-करीब तय शादी की बात टूट गई .

अब घूसखोर अफसरों की लाइन लगी है IAS के लिए

मुख्‍य मंत्री नीतीश कुमार को पत्र के अंत में सुभाष पांडेय बता रहे हैं कि अभी जदयू विधायक की दहेज दुकान में बड़े-बड़े रिश्‍वतखोर अफसर दौड़ लगा रहे हैं . जो सबसे अधिक बोली लगाएगा, शादी हो जाएगी . अपने तथ्‍यों की जांच की मांग भी सुभाष करते हैं .

पत्र में वे लिखते हैं कि मुख्‍य मंत्री अपनी एजेंसियों से जांच करा लें . साथ में, अपनी पार्टी जदयू के विधायक को ऐसा न करने को समझा दें . न समझें तो दंडित करें, ताकि आपके ही दहेजबंदी मिशन को और कोई दूसरा भी पंक्‍चर करने का साहस न करे .