दिल्ली अग्निकांड में बिहार को बड़ा सदमा, अब तक 28 बिहारियों के मरने की सूचना

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : दिल्ली के रानी झांसी रोड पर हुए अग्निकांड में 43 लोगों की मौत से सबसे ज्यादा प्रभावित बिहार ही हुआ है. मरने वालों में बड़ी संख्या में बिहारी मजदूर शामिल हैं. हालांकि हादसे के बाद मौके पर पहुंची दमकल की गाड़ियों ने 54 लोगों को बचाया भी था. लेकिन दिल्ली के फैक्ट्री में लगे आग ने बिहार के कई शहरों में कई घरों के चिरागों को बुझा दिया है. ताजा जानकारी मिलने तक मरने वालों में 28 बिहारियों के मौत की ख़बर मिली है.

हादसे के बाद अपने परिजनों से संपर्क न हो पाने के कारण लोग परेशान हैं. वहीं जिन लोगों की मौत की ख़बरें पहुंच रही हैं उनके गांव और घर में मातमी सन्नाटा छा गया है. हर तरफ लोगों का रो-रोकर बुरा हाल है.



कुल 28 बिहारी मजदूरों के मरने की सूचना

अब तक मिली जानकारी के अनुसार दिल्ली अग्निकांड में सहरसा के 6 लोगों की मौत हो चुकी है जिनमें फजल, सजीम, अफसार, अफजल, ग्यासुद्दीन, सज्जाद शामिल हैं. वहीं बिहार के अररिया के हेगुआ गांव निवासी जाहिद की मौत हो गई है. बेगूसराय के छोराई निवासी नवीन कुमार की भी मौत की ख़बर मिल रही है. इसके अलावा इस हादसे में सीतामढ़ी के 5 लोगों की मौत हुई है. सीतामढ़ी के मृतकों में सनाउल्लाह, गुलाब, अब्बास, ऐनुल और दुलारे शामिल हैं.

मृतकों की सूची

फैक्ट्री मालिक को पुलिस ने किया गिरफ्तार

बता दें कि दिल्ली के अनाज मंडी इलाके में लगी आग में 43 लोगों की जान जा चुकी है. ये आग आज सुबह करीब पांच बजे लगी थी. दमकल की गाड़ियों को 5.10 बजे सुबह सूचना दी गई थी जिसके बाद राहत-बचाव कार्य शुरू किया गया था. इस मामले में पुलिस ने फैक्ट्री के मालिक को गिरफ्तार कर लिया है. दरअसल ये फैक्ट्री रिहायशी इलाके में बिना NOC के चलाई जा रही थी. फैक्ट्री के मालिक रेहान को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है और पूछताछ की जा रही है. बताया जा रहा है कि पुलिस ने रेहान पर आईपीसी की धारा 304 और 285 (लापरवाही) के तहत केस दर्ज किया है.

शर्मनाक: बाप ही अपने बेटे से करवा रहा था क्राइम, कारोबारी की हत्या मामले में हुआ खुलासा