मैट्रिक में फेल छात्र इस तारीख से करें स्क्रूटनी का आवेदन

पटना (नियाज़ आलम) :  बिहार बोर्ड मैट्रिक परीक्षा के नतीजे सामने आ चुके हैं.  लखीसराय के प्रेम कुमार 93 % अंक लाकर स्टेट टॉपर बने हैं. इस बार 17,23,911 विद्यार्थियों ने मैट्रिक की परीक्षा दी थी. इनमें से सिर्फ 8,63,950 विद्यार्थी ही पास हुए. फेल हुए छात्र-छात्राओं के लिए बिहार बोर्ड ने स्क्रूटनी की व्यवस्था की है. अपने रिजल्ट से नाखुश छात्र-छात्राएं बिहार बोर्ड की आधिकारिक साईट http://www.biharboard.ac.in/  पर जा कर 26 जून से 6 जुलाई तक स्क्रूटनी का आवेदन दे सकते हैं. यह जानकारी प्रेस वार्ता के दौरान बोर्ड के चेयरमैन आनंद किशोर ने दी.   

हालांकि बोर्ड ने टॉपरों को प्रोत्साहित करने के लिए इंटर के तर्ज पर मैट्रिक में भी इनाम की घोषणा की है. फर्स्ट टॉपर को 1 लाख रुपये और एक लैप टॉप, सेकंड को 75 हज़ार रुपये और एक लैप टॉप, थर्ड को 50 हज़ार रुपये और एक लैप टॉप. फोर्थ से टेंथ तक को 10 हज़ार रुपये और एक लैप टॉप दिए जाने की बात कही गई है.

बता दें कि इस बार 8 अंक तक गरचे देने की व्यवस्था के बावजूद 50 फीसदी छात्र-छात्रा ही पास कर पाये. इस पर एक बार फिर से सवाल उठने लगे हैं. इंटर टॉपर घोटाले के दंश से बेहाल बिहार बोर्ड ने मैट्रिक के परिणाम को पूरी सावधानी के साथ घोषित करने की कोशिश की है.

इंटर आर्ट्स टॉपर गणेश की तरह कोई छात्र आयु य अन्य जानकारी छुपकर परीक्षा में शामिल न हुआ हो, इसकी संतुष्टि के लिए सभी टॉप टेन छात्रों को व्यक्तिगत तौर पर बोर्ड कार्यालय बुला कर उनकी जांच की गई. इसके अलावा उन सभी स्कूलों का सत्यापन भी किया गया है, जहां से छात्रों ने परीक्षा दी है. बोर्ड अध्यक्ष आनंद किशोर ने बताया की सभी प्रक्रिया काफी गोपनीय तरीके से पूरी की गई है.

यह भी पढ़ें-  Bihar Board ने जारी किया मैट्रिक का रिजल्ट, यहां एक क्लिक पर देखें नतीजे