बिहार बोर्ड ने कंपार्टमेंटल परीक्षा की डेट बढ़ाई, जानें तारीख

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : बिहार माध्यमिक कंपार्टमेंटल-सह- विशेष परीक्षा, 2019 में सम्मिलित होने वाले परीक्षार्थियों का ऑनलाइन परीक्षा फॉर्म एवं शुल्क शिक्षण संस्थान के माध्यम से जमा करने के लिए समिति द्वारा तारीख 11 अप्रैल से 16 अप्रैल तक अवसर प्रदान किया था. अब इसे बढ़ा दिया गया है. अब छात्र-छात्राएं 21 अप्रैल तक बिना किसी विलंब शुल्क के भर सकते है. कंपार्टमेंटल परीक्षार्थियों के लिए यह बहुत बड़ी खबर है. पिछले 6 अप्रैल को बिहार बोर्ड की रिजल्ट जारी हुआ था.

इस संबंध में आनन्द किशोर अध्यक्ष बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने आज बताया कि माध्यमिक कंपार्टमेंटल-सह-विशेष परीक्षा, 2019 के लिए अब शिक्षण संस्थान अपने परीक्षार्थियों का बिना विलम्ब शुल्क के परीक्षा फॉर्म एवं शुल्क दिनांक 21 अप्रैल तक जमा कर सकते हैं. आपको बता दें कि माध्यमिक कंपार्टमेंटल-सह-विशेष परीक्षा, 2019 के लिए ऑनलाइन परीक्षा फॉर्म भरने एवं शुल्क जमा करने के लिए समिति का वेबसाइट www.biharboard.online है.

दरअसल, बिहार माध्यमिक शिक्षक संघ ने वर्ष 2018 में वैसे सभी पंजीकृत लेकिन जांच परीक्षा में नॉन सेंटअप छात्र व छात्राओं को बिहार विद्यालय परीक्षा समिति द्वारा आयोजित की जा रही माध्यमिक कंपार्टमेंटल सह विशेष परीक्षा – 2019 में शामिल करने की मांग की है.

बिहार माध्यमिक शिक्षक संघ के मीडिया प्रभारी सह प्रवक्ता अभिषेक कुमार ने बताया कि गत वर्ष बिहार विद्यालय परीक्षा समिति द्वारा पहली बार जांच परीक्षा से पूर्व ही परीक्षा फॉर्म भरवा लिया गया था जिस कारण बहुत सारे छात्र व छात्राएं जांच परीक्षा में सम्मिलित नहीं हो सके और उन्हें मजबूरन विद्यालयों को नॉन सेंटअप करना पड़ा जिस कारण उनका एडमिड कार्ड बोर्ड द्वारा जारी नहीं किया गया और वे परीक्षा से वंचित रह गए.

उन्होंने बताया कि इस संबंध में बिहार माध्यमिक शिक्षक संघ का एक प्रतिनिधिमंडल बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के अध्यक्ष से मिल कर इन तथ्यों से अवगत कराया था तथा इसके निदान की मांग की थी. समिति के अध्यक्ष ने संघ के प्रतिनिधिमंडल को आश्वस्त किया था कि ऐसे छात्र-छात्राओं को बोर्ड द्वारा आयोजित होने वाली आगामी कपार्टमेंटल सह विशेष परीक्षा में सम्मिलित कराया जायेगा.

लेकिन वर्तमान में कपार्टमेंटल सह विशेष परीक्षा के लिए जो ऑनलाइन फॉर्म की प्रक्रिया चल रही है उसमें समिति के ऑफिसियल पोर्टल पर ऐसे छात्र-छात्राओं का नाम तो जरूर दिख रहा है मगर उनका आवेदन भरने के बाद स्वीकृत नहीं हो पा रहा है जिससे विद्यालय सहित छात्र व छात्राओं में अफरातफरी का माहौल है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*